--Advertisement--

मिट्‌टी आने से सोसाइटी नहीं खरीद रही गेहूं

भास्कर संवाददाता| हरदा/बालागांव नकवाड़ा सोसाइटी से जुड़े किसानों को समर्थन मूल्य पर उपज बेचने में परेशानी आ रही...

Dainik Bhaskar

Apr 06, 2018, 06:05 AM IST
भास्कर संवाददाता| हरदा/बालागांव

नकवाड़ा सोसाइटी से जुड़े किसानों को समर्थन मूल्य पर उपज बेचने में परेशानी आ रही है। किसानों का कहना है ओलावृष्टि के कारण उनकी फसल आड़ी हो गई थी, इस कारण गुणवत्ता पर असर पड़ा है। इसे देखते हुए समिति द्वारा किसानों से उपज नहीं खरीदी जा रही है। समस्याओं के समाधान के लिए गुरुवार को सोसाइटी से जुड़े किसानों ने कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपा। इसमें समस्या का शुक्रवार तक समाधान नहीं किया जाता है तो अनिश्चितकालीन आंदोलन शुरू किया जाएगा। भारतीय किसान संघ ग्राम इकाई नकवाड़ा के अरुण राजपूत ने बताया नकवाड़ा सोसाइटी में समर्थन मूल्य पर किसानों को उपज बेचने में परेशानी आ रही है। ओलावृष्टि के कारण उपज की गुणवत्ता पर असर पड़ा है। फसल के जमीन पर बिछने से गेहूं में मिट्‌टी आ रही है। जिसे किसानों ने साफ भी किया है। इसके बाद भी उपज खरीदी नहीं जा रही है। इस कारण सोसाइटी से जुड़े नकवाड़ा, जिजगांव, सिरकंबा और बूंदड़ा के किसानों को परेशानी आ रही है। शुक्रवार तक समस्या का समाधान नहीं किया गया तो किसान आंदोलन करेंगे। ज्ञापन आनंद कुशवाह, बद्रीप्रसाद, करण सिंह, सुरेंद्र सिंह, गयाप्रसाद, संतोष समेत अन्य ने सौंपा।

10 अप्रैल से शुरू होगी चने के समर्थन मूल्य की खरीदी

भास्कर संवाददाता |टिमरनी

कृषि उपज मंडी में समर्थन मूल्य पर चने की खरीदी 10 अप्रैल से शुरू होगी। इसके लिए क्षेत्र के 1500 किसानों ने चने का पंजीयन कराया है। वहीं कई किसानों ने रुपयों की जरूरत के चलते मंडियों में चना कम भाव पर बेच दिया है। ऐसे में इन किसानों को भी समर्थन मूल्य का भाव भावांतर के तहत दिया जाना चाहिए। किसानों का कहना है चने की फसल निकले एक माह से अधिक का समय हो गया है, चने की खरीदी में देरी से किसानों की मुश्किलें बढ़ रही है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..