• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Timarni News
  • 7वीं के छात्र को शिक्षिका ने पालक से साइन कराने को कहा तो छात्र ने गढ़ी खुद के अपहरण की झूठी कहानी
--Advertisement--

7वीं के छात्र को शिक्षिका ने पालक से साइन कराने को कहा तो छात्र ने गढ़ी खुद के अपहरण की झूठी कहानी

शहर के 7वीं कक्षा के छात्र को शिक्षिका ने कॉपी पर पालक के साइन कराकर लाने को कहा तो डर से छात्र ने घर जाकर पहले तो...

Dainik Bhaskar

Feb 23, 2018, 06:10 AM IST
शहर के 7वीं कक्षा के छात्र को शिक्षिका ने कॉपी पर पालक के साइन कराकर लाने को कहा तो डर से छात्र ने घर जाकर पहले तो बीमारी का बहाना बनाया। माता-पिता ने उसे दवाई दी। इसके बाद वे काम पर चले गए। छात्र डर से पैसेंजर में बैठकर इटारसी चला गया। जहां स्टेशन पर घूमा। फिर जीआरपी पुलिस के माध्यम से मां को फोन लगाया। पिता लेकर आए तो पुलिस को अपहरण की झूठी कहानी बताई। बाद में पुलिस ने सवाल-जवाब किए तो सारा मामला बता दिया।

पुलिस ने बताया निजी स्कूल के कक्षा 7वीं के छात्र को शिक्षिका वितिका माहुले ने बुधवार को काॅपी पर साइन नहीं होने पर डांटते हुए साइन कराकर लाने कहा। इससे डरा बच्चा घर गया और बीमारी का बहाना बनाया, तो माता-पिता ने दवाइयां दीं। फिर मजदूरी करने चले गए। इसके बाद छात्र दोपहर 3 बजे घर से रेलवे स्टेशन चला गया और पैसेंजर में बैठकर इटारसी में उतर गया। वहां जीआरपीएफ पुलिस को बताकर मां को फोन गलाया। सूचना पर पिता परिजनों के साथ शाम 7 बजे इटारसी पहुंचे और रात 11 बजे बच्चे को लेकर आए।


हरी वेन में किया घर के सामने से अपहरण

छात्र ने पालकों को बताया दो लोगों ने घर के सामने से हरे रंग की वेन में उसका अपहरण कर लिया। इसके बाद इटारसी ले जाकर हनुमान मंदिर पर छोड़ दिया। गुरुवार सुबह परिजनों ने पुलिस को घटना की जानकारी दी। पुलिस के सामने भी बच्चे ने यही कहानी सुनाई। लेकिन जब पुलिस ने घटना के संबंध में सवाल-जवाब किए तो छात्र डर गया और सच बता दिया। मैडम ने साइन के लिए कहा था, इससे डरकर वह घर से चला गया। वहीं शिक्षिका दीपिका माहुले ने बताया कॉपियों पर रूटीन साइन की प्रक्रिया के तहत पालकों के साइन कराकर लाने के लिए घर भेजा था। मुझे अंदाजा नहीं था, बच्चा डर में ऐसा कदम उठा लेगा।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..