--Advertisement--

भास्कर संवाददाता| टिमरनी

भास्कर संवाददाता| टिमरनी शिक्षा विभाग प्राथमिक शाला में पहली और दूसरी के बच्चों की गुणवत्ता का आंकलन नए तरीके...

Danik Bhaskar | Feb 18, 2018, 07:20 AM IST
भास्कर संवाददाता| टिमरनी

शिक्षा विभाग प्राथमिक शाला में पहली और दूसरी के बच्चों की गुणवत्ता का आंकलन नए तरीके से करेंगा। बच्चों की गुणवत्ता अब स्माइल गुड्डे बताएंगे। इसमें गणित, अंग्रेजी और हिंदी विषय का आंकलन किया जाएगा। जिससे कि पता चल सकेगा कि बच्चा किस विषय में कमजोर या अच्छा है।

शिक्षा विभाग ने 2017-18 में दोनों कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए नए प्रगति पत्रक छापे है। इसमें विषयवार सीखने की क्षमता का आंकलन किया जाएगा। व्यक्तिगत व सामजिक स्तर पर ही परखा जाएगा। नियमितता, समयबद्धता, खेल-कूद, आत्मविश्वास, नेतृत्व क्षमता, स्व अनुशासन, शारीरिक स्वच्छता, सृजनात्मकता, जिम्मेदारी लेना जैसे काॅलम बनाए गए है। इसमें भी अंक की जगह ग्रेड दिए जाएंगे। सरकारी स्कूलों का स्तर सुधारने के लिए नए तरीके अपना रहे है। हालांकि इसके मूल्यांकन के लिए अब तक शिक्षकों को ट्रेनिंग नहीं दी गई है।