--Advertisement--

शहर के 10 चौराहों पर लगेंगे कैमरे, होगी निगरानी

गंभीर अपराधों के दौरान अपराधियों को पकड़ने में मिलेगी मदद भास्कर संवाददाता | हरदा शहर के दस प्रमुख...

Danik Bhaskar | Feb 15, 2018, 07:30 AM IST
गंभीर अपराधों के दौरान अपराधियों को पकड़ने में मिलेगी मदद

भास्कर संवाददाता | हरदा

शहर के दस प्रमुख चौक-चौराहों पर अब पुलिस सीसीटीवी कैमरे से निगरानी रखने लगेगी। दूसरे चरण में जिले को सीसीटीवी सर्विलांस नेटवर्क से जोड़ा जाएगा। इसमें पीटी जेड, एनपीआर कैमरा और फिक्स्ड कैमरा है। ये खासकर अपराधियों की धरपकड़, क्राइम रोकने में काफी मददगार होंगे। हाई सिक्यूरिटी कैमरे 500 मीटर दूर तक चेहरा व वाहन की नंबर प्लेट स्कैन कर सकेंगे। पुलिस कंट्रोल रूम से विभिन्न चौराहों की गतिविधियों पर नजर रखी जाएगी। एक सप्ताह में निजी कंपनी द्वारा शहर का सर्वे किया जाएगा। इसी वर्ष दिसंबर तक सीसीटीवी कैमरे लग जाएंगे। इसके बाद अपराधियों को पकड़ने में पुलिस को आसानी होगी।

जानकारी के मुताबिक वर्ष 2014-15 में 2.50 करोड़ रुपए का प्रस्ताव पुलिस मुख्यालय भेजा गया था। इसमें जिला मुख्यालय पर कंट्रोल रूम बनेगा। इसके अलावा हरदा, खिरकिया व टिमरनी के 30 स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे का प्रस्ताव शामिल है। हरदा जिले को तीसरे चरण में शामिल किया गया था। लेकिन दूसरे चरण में ही दस स्थानों पर कैमरे लगाने को मंजूरी मिल गई है। एसपी राजेश कुमार सिंह के मुताबिक दिसंबर माह तक शहर के चौक-चौराहों पर सीसीटीवी कैमरे लग जाएंगे। इसके लिए शहर कोतवाली में कंट्रोल रूम तैयार हो रहा है। कैमरे दो प्रकार के होंगे। जरूरत पड़ने पर सीसीटीवी से हाईक्वालिटी के पिक्चर लिए जा सकेंगे। आगामी सप्ताह में निजी कंपनी की टीम शहर के सर्वे के लिए आएंगी।

इन स्थानों पर लगेंगे

दूसरे चरण में शहर के स्टेट हाईवे पर खेड़ीपुरा के वन नाका, रेलवे डबल फाटक, इंदौर रोड पर बंसल पेट्रोल पंप, परशुराम चौक, अस्पताल चौराहा, नया बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन तिराहा, नारायण टॉकीज चौक, कलेक्टोरेट बायपास चौक पर सीसीटीवी कैमरे लगाने को मंजूरी मिली है।

दूसरे चरण में शहर में 10 स्थानों पर सीसीटीवी लगाने की मंजूरी, एक सप्ताह में होगा सर्वे

कंट्रोल रूम में बैठकर की जा सकेगी निगरानी

एसपी सिंह ने बताया पीटीजेड और एएनपीआर कैमरे होंगे। पीटीजेड कैमरे के माध्यम से पुलिस कंट्रोल रूम में बैठकर वाहन और व्यक्ति पर फोकस कर सकेगी। इस क्वालिटी के कैमरे से कंट्रोल रूम से ही फोटो खींची जा सकेगी। इसके अलावा एएनपीआर कैमरे से वाहनों नंबर प्लेट रिकार्ड होगी। वाहनों की नंबर प्लेट आटोमैटिक कंट्रोल रूम में लगे सिस्टम की मेमोरी में सेव हो जाएगी। आपराधिक घटना के समय मेमोरी से वाहनों के नंबर जांचें जा सकेंगे।

नेशनल व स्टेट हाईवे पर रहेगी नजर

एसपी सिंह के मुताबिक शहर के एंट्री व एक्जिट प्वाइंट सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में रहेंगे। ताकि शहर के बाहर भागने वाले अपराधियों की शिनाख्त हो सके। इसमें इंदौर-बैतूल नेशनल हाईवे पर रेलवे डबल फाटक, बंसल पेट्रोल पंप, स्टेट हाईवे पर खेड़ीपुरा वन नाका शामिल है। उन्होंने कहा छीपानेर नाके पर अगले चरण में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे।