Hindi News »Madhya Pradesh »Timarni» जनपद सीईओ ने कार्यालय के सामने संचालित शराब दुकान हटाने एसडीएम को लिखा पत्र

जनपद सीईओ ने कार्यालय के सामने संचालित शराब दुकान हटाने एसडीएम को लिखा पत्र

जनपद पंचायत कार्यालय के सामने कुछ दिनों से देसी-विदेशी शराब दुकान संचालित की जा रही है। अब इसके विरोध में जनपद...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 05, 2018, 04:55 AM IST

जनपद सीईओ ने कार्यालय के सामने संचालित शराब दुकान हटाने एसडीएम को लिखा पत्र
जनपद पंचायत कार्यालय के सामने कुछ दिनों से देसी-विदेशी शराब दुकान संचालित की जा रही है। अब इसके विरोध में जनपद सीईओ आ गए हैं। उन्होंने एसडीएम को पत्र लिखकर शराब दुकान हटाने की मांग की।

संभवत: जिले का यह पहला मामला है जब जनपद पंचायत सीईओ के स्तर के किसी सरकारी अधिकारी ने शराब दुकान का विरोध किया है। जनपद सीईओ रंजीत सिंह तारम ने एसडीएम पीके पांडे को पत्र लिखकर जनपद कार्यालय के सामने संचालित शराब दुकान हटाने की मांग की। उन्होंने आवेदन में बताया जनपद पंचायत परिसर में जनपद पंचायत के अलावा महिला बाल विकास विभाग, कृषि विभाग, विद्युत वितरण कंपनी, पशुपालन विभाग, उद्यानिकी विभाग, आरईएस विभाग के ऑफिस संचालित हैं। सरकारी गतिविधियों के कारण यहां आमजन, महिलाएं, जनप्रतिनिधियों का आना-जाना लगा रहता है। इतना ही नहीं जनपद परिसर में सामुदायिक भवन भी है। इसमें ब्लॉक स्तर पर कई सरकारी कार्यक्रम व बैठकें आयोजित होती रहतीं है। इनमें सामुदायिक एवं हितग्राही मूलक कार्यक्रम, स्वसहायता समूहों की बैठकों में महिलाएं भी शामिल होती हैं।

टिमरनी। जनपद कार्यालय के सामने संचालित देसी-विदेशी शराब दुकान।

कार्यालय परिसर में फेंक देते हैं बोतलें-डिस्पोजल

कार्यालय परिसर के सामने ही देसी व विदेशी शराब दुकान है। शराब दुकान पर शराबियों व असामाजिक तत्वों का जमावड़ा लगा रहता है। शाम होते ही कार्यालय परिसर में असामाजिक तत्व शराब की बोतलें, डिस्पोजल फेंक देते हैं। शराबियों द्वारा शराब पीकर गाली-गलौज की जाती है। आए दिन शराबियों के बीच किसी न किसी बात पर लड़ाई-झगड़ा होना आम बात है। इस कारण किसी दिन कोई बड़ी घटना हो सकती है।

महिलाओं को लगने लगा डर

शराब दुकान खुलने के कारण कार्यालय आने वाली महिलाओं को सबसे ज्यादा असुविधाओं का सामना करना पड़ रहा है। महिलाओं को हमेशा डर बना रहता है कि शराबी नशे में कोई हरकत न कर दे। इन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए जनपद सीईओ ने जनपद पंचायत के सामने संचालित की जा रही शराब दुकान को किसी दूसरी जगह स्थानांतरित करने की मांग की। उन्होंने आवेदन की प्रति कलेक्टर, एसपी, जिला आबकारी अधिकारी, एसडीओपी को भी प्रेषित की।

नेशनल हाईवे पर हादसों का डर

नई शराब दुकान नेशनल हाईवे 59 ए से कुछ ही मीटर की दूरी पर संचालित हो रही है। इस कारण सुबह से लेकर देर रात तक शराबियों का दुकान पर जमघट रहता है। बताया जा रहा है कि रात में नशे के कारण हादसे हो रहे हैं। इस कारण लोगों को यहां से निकलते समय हादसों का डर लगा रहता है। इसे देखते हुए लोग भी शराब दुकान हटाने की मांग करने लगे हैं। जिससे परेशानी कम हो सके।

कार्रवाई के लिए आबकारी अधिकारी को भेज रहे हैं

इस संबंध में हमें आवेदन मिला है। जिसे कार्रवाई के लिए जिला आबकारी अधिकारी को भेजा जा रहा है। पीके पांडे, एसडीएम, टिमरनी

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Timarni

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×