• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Timarni
  • बिना अनुमति हो रही थी सिलेंडरों की सप्लाई, तहसीलदार एजेंसी की सील
--Advertisement--

बिना अनुमति हो रही थी सिलेंडरों की सप्लाई, तहसीलदार एजेंसी की सील

Dainik Bhaskar

Apr 26, 2018, 05:30 AM IST

Timarni News - खाद्य विभाग और राजस्व विभाग और तहसीलदार ने बुधवार को बिना अनुमति के कोल्हटकर मार्केट में संचालित गोपाल भारत गैस...

बिना अनुमति हो रही थी सिलेंडरों की सप्लाई, तहसीलदार एजेंसी की सील
खाद्य विभाग और राजस्व विभाग और तहसीलदार ने बुधवार को बिना अनुमति के कोल्हटकर मार्केट में संचालित गोपाल भारत गैस एजेंसी के कार्यालय को सील कर दिया। हालांकि गैस एजेंसी संचालक को कार्रवाई की भनक पहले ही लग गई थी। इस कारण वह तहसीलदार के पहुंचने से पहले ही ऑफिस बंद कर चला गया। गैस एजेंसी पर प्रशासन की कार्रवाई से क्षेत्र में हड़कंप मच गया।

तहसीलदार अलका एक्का ने बुधवार दोपहर राजस्व विभाग और खाद्य विभाग की टीम के साथ मिलकर गोपाल भारत गैस एजेंसी के कोल्हटकर मार्केट स्थिति ऑफिस पर कार्रवाई की। एक माह पहले ही एजेंसी का संचालन शुरू किया था। जैसे ही टीम गैस एजेंसी के ऑफिस पहुंची तो ताला लगा मिला। तहसीलदार ने कार्रवाई करते हुए ऑफिस को सील कर दिया। कार्रवाई के दौरान खाद्य अधिकारी आपूर्ति पटेल, आशा उइके, शंकर सातनकर भी मौजूद रहे।

टिमरनी। तहसीलदार की मौजूदगी में दुकान बंद मिलने पर सील करता अमला।

बाजार में सिलेंडर की हो रही सप्लाई

तहसीलदार अलका एक्का ने बताया खाद्य विभाग को पिछले दिनों दुकान में ही गैस एजेंसी के संचालन की सूचना मिली थी। गोपाल भारत गैस एजेंसी के संचालक द्वारा ऑफिस से ही गैस सिलेंडर की सप्लाई की जा रही थी। ऐसे में हादसे को देखते हुए कार्रवाई की। साथ ही संचालक ने विभाग से किसी प्रकार की कोई अनुमति नहीं ली है। ऑफिस बंद मिलने पर पंचनामा बनाकर सील कर दिया।

प्रशासन की कार्रवाई की खुली पोल, भनक लगते भागा संचालक

तहसीलदार के मार्गदर्शन में दोनों विभागों की टीम कार्रवाई के लिए गई। इससे पहले ही किसी कर्मचारी ने गैस एजेंसी संचालक गोपाल दीक्षित को सूचना दे दी। इस कारण एजेंसी संचालक ऑफिस में ताला लगाकर भाग गया। इससे प्रशासन की कार्रवाई की पोल खुल गई। टीम के पहुंचने पर संचालक को फोन कर बुलाया भी, लेकिन वह नहीं आया।

घनी आबादी में है ऑफिस

गोपाल भारत गैस एजेंसी का ऑफिस बीच बाजार में घनी आबादी क्षेत्र में है। संचालक सारे नियमों को ताक पर रखकर एजेंसी का संचालन कर रहा था। इससे किसी दिन बड़ा हादसा हो सकता था। इतना ही नहीं गैस एजेंसी के ऑफिस पास सरकारी अस्पताल भी है। एक माह से संचालित दुकान की अधिकारियों को भनक तक नहीं लगी, जब लगी तो संचालक गोपाल दीक्षित भाग खड़ा हुआ।

दुकान सील की है


पंचनामा बनाकर कार्रवाई की है


X
बिना अनुमति हो रही थी सिलेंडरों की सप्लाई, तहसीलदार एजेंसी की सील
Astrology

Recommended

Click to listen..