• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Timarni News
  • 25 लाख से तैयार मिट्टी परीक्षण प्रयोग शाला 3 माह बाद भी नहीं हो पाई शुरू
--Advertisement--

25 लाख से तैयार मिट्टी परीक्षण प्रयोग शाला 3 माह बाद भी नहीं हो पाई शुरू

टिमरनी। तीन माह पहले ही तैयार है मिट्टी परीक्षण प्रयोगशाला का भवन।

Danik Bhaskar | May 02, 2018, 05:30 AM IST
टिमरनी। तीन माह पहले ही तैयार है मिट्टी परीक्षण प्रयोगशाला का भवन।



भास्कर संवाददाता| टिमरनी

कृषि उपज मंडी में मंडी निधि से परिसर में किसानों के खेतों की मिट्टी में पोषक तत्वों की जांच के लिए बनी प्रयोग शाला तीन माह बाद भी शुरू नहीं हो सकी। अभी तो बिजली कनेक्शन भी नहीं लगा पाया है। 25 लाख के भवन का उपयोग नहीं होने से विकासखंड के 15 हजार किसान अपने खेतों की मिट्टी का परीक्षण नहीं करा पाते हैं। मिट्टी के नमूने लेकर किसानों को 15 किमी दूर हरदा जाना पड़ता है। विभागीय अधिकारी इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं। भवन कृषि विभाग को हैंडओवर होना है।

जानकारी के मुताबिक बिजली विभाग की लापरवाही के चलते प्रयोगशाला के लिए मंडी परिसर में विद्युत ट्रांसफार्मर आज तक नहीं लग पाया है। बिजली कंपनी के अधिकारी इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं। समय रहते यदि बिजली कनेक्शन हो जाता तो किसानों को अब तक मिट्टी परीक्षण की रिपोर्ट मिलना शुरू हो जाती। इस रिपोर्ट के आधार पर किसान अपनी खेतों में खाद का उपयोग कर बेहतर उत्पादन ले सकते।

जानकारी के अनुसार मंडी में उपज लेकर आने वाले किसानों के लिए मिट्टी परीक्षण प्रयोग शाला भवन बनकर तीन माह पहले ही तैयार हो चुका है। मंडी बोर्ड ने प्रयोगशाला भवन का निर्माण तो पूर्ण करा दिया है, वहीं बिजली विभाग को भी पूरी फाइल कंप्लीट कर दे दी है। बावजूद इसके आज तक यहां ट्रांसफार्मर नहीं लग पाया है। इस कारण मंडी बोर्ड भवन कृषि विभाग को हैंडओवर नहीं कर पा रहा है। इसके चलते किसान इस सुविधा से वंचित हैं। सूत्रों के अनुसार मंडी इंजीनियर द्वारा लगातार बिजली कंपनी को ट्रांसफार्मर लगाने के लिए पत्र लिखे जा रहे हैं। बिजली विभाग 8 दिनों में ट्रांसफार्मर लगाने की बात मंडी बोर्ड के इंजीनियर से कह रहा है।