--Advertisement--

लाठीचार्ज के विरोध में वकीलों ने नहीं की पैरवी

हरदा और टिमरनी के वकीलों ने कलेक्टर को दिया ज्ञापन भास्कर संवाददाता| हरदा/टिमरनी मप्र के सीधी जिले में...

Dainik Bhaskar

Apr 13, 2018, 05:55 AM IST
हरदा और टिमरनी के वकीलों ने कलेक्टर को दिया ज्ञापन

भास्कर संवाददाता| हरदा/टिमरनी

मप्र के सीधी जिले में न्यायालय परिसर में पुलिस द्वारा वकीलों पर लाठीचार्ज करने व आंसू गैस के गोले छोड़ने से करीब 10 वकील घायल हो गए। पुलिस की कार्रवाई के विरोध में जिला अधिवक्ता संघ ने गुरुवार को प्रतिवाद दिवस मनाया। इस दौरान वकीलों ने किसी भी कोर्ट में हाजिर होकर पैरवी नहीं की। अधिवक्ता संघ ने दोपहर दो बजे रैली निकालकर कलेक्टर को ज्ञापन दिया। इधर टिमरनी में भी वकीलों ने पुलिस की इस कार्रवाई की निंदा कर दोषियों पर कार्रवाई की मांग की। अधिवक्ता संघ के सचिव वंदितसिंह राजपूत ने बताया संघ ने प्रशासन को दिए ज्ञापन में एडवोकेट प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने की मांग की गई। उन्होंने बताया इससे पहले भी वकीलों की सुरक्षा के लिए इस एक्ट को लागू करने की मांग की। लेकिन आज तक सरकार ने ध्यान नहीं दिया। इस कारण आए दिन वकीलों पर हमले हो रहे हैं। ज्ञापन देते समय अध्यक्ष बीएम पाराशर, कपिल वर्मा, चंदनसिंह राजपूत, आनंद बंडावाला, संजय गौर समेत अनेक वकील मौजूद रहे। इधर टिमरनी में ज्ञापन देते समय अधिवक्ता संघ अध्यक्ष डीएल मालाकार ने बताया सीधी की घटना के विरोध में संघ ने टिमरनी न्यायालय में कार्य से अलग रहकर प्रतिवाद दिवस मनाया। इस दौरान सचिव रामरूप गुर्जर, विक्रम रघुवंशी, उमेश चौबे, कैलाश तिलोरे, धर्मेंद्र सिंहल, केके राजपूत, अजय पाटिल, एलएल तांबुलकर, जितेंद्र जसपाल, अोपी गुर्जर, मनोज गुर्जर, राममोहन दोगने, संतोष राजपूत समेत अन्य अधिवक्ता मौजूद रहे।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..