• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Timarni News
  • स्पार्किंग के कारण नौसर में टूटा 11 केवी का तार, तीन घंटे बंद रही 38 गांवों की सप्लाई
--Advertisement--

स्पार्किंग के कारण नौसर में टूटा 11 केवी का तार, तीन घंटे बंद रही 38 गांवों की सप्लाई

भास्कर संवाददाता| करताना/टिमरनी क्षेत्र में तार लगातार टूट रहे हैं। रविवार सुबह झूलते तारों के बीच स्पार्किंग...

Dainik Bhaskar

Apr 30, 2018, 06:30 AM IST
स्पार्किंग के कारण नौसर में टूटा 11 केवी का तार, तीन घंटे बंद रही 38 गांवों की सप्लाई
भास्कर संवाददाता| करताना/टिमरनी

क्षेत्र में तार लगातार टूट रहे हैं। रविवार सुबह झूलते तारों के बीच स्पार्किंग होने के कारण नौसर में 11 केवी लाइन का तार टूट गया। इससे करताना सब स्टेशन से जुड़े 38 गांवों की बिजली सप्लाई बंद हो गई। बिजली करीब तीन घंटे बंद रही है। लेकिन किसी के हताहत नहीं होने से बड़ा हादसा टल गया।

टिमरनी-करताना मार्ग पर तीन दिन में नौसर के पास तार टूटने की यह दूसरी घटना है। ग्रामीणों ने बताया नौसर में सरकारी अस्पताल के पास झूलते तारों में स्पार्किंग के कारण 11 केवी लाइन का तार टूट गया। हादसा सुबह करीब 3.30 बजे हुआ। सूचना पर कंपनी ने बिजली बंद की और इसे दुरुस्त किया। बिजली 3 घंटे बाद करीब 6.30 बजे आई। तार टूटने से करताना सब स्टेशन से जुड़े 38 गांवों की बिजली सप्लाई बंद रही। मालूम हो कि शुक्रवार को भी बारातियों की बस से टकराने के कारण बिजली के तार टूट गए थे। इससे ट्रांसफार्मर में आग लग गई। ग्रामीणों ने बिजली बंद करवाकर आग पर काबू पाया।

कस्बों और टोलों पर नहीं पहुंची बिजली

प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना के तहत टिमरनी, रहटगांव व करताना के कस्बों व टोलों में बिजली व्यवस्था की जा रही है, लेकिन करताना के खेड़ी टप्पर के रहवासियों को अब तक बिजली नहीं मिली है। कंपनी ने 2 किमी लंबी लाइन तो बिछा दी, लेकिन शुरू नहीं होने से 20 परिवार अब भी अंधेरे में ही जीवन यापन कर रहे हैं। जबकि भीषण गर्मी के कारण लोग बेहाल हैं। यहीं स्थिति सामरधा चौकी, मनियाखेड़ी, लोधीढाणा, खरतलाई नहर के पास रहने वाले 39 परिवारों की भी है।


करताना। बिजली के टूटे तार को जोड़ते विद्युतकर्मी।

घटिया सामग्री उपयोग

करने का लगाया आरोप

योजना के तहत गरीबी रेखा के हितग्राहियों को कनेक्शन दिए जा रहे हैं। ग्रामीण सुखराम ने बताया ढाने पर 7 परिवार रह रहे हैं, उन्हें बिजली कनेक्शन दिए हैं। जिन परिवारों के ये कनेक्शन दिए हैं, उनके यहां लगाई विद्युत सामग्री की गुणवत्ता ठीक नहीं है। लगाने के बाद से बोर्ड टूटने लगे हैं। ऐसे में कितने दिन और चलेंगे, कह पाना मुश्किल है। वहीं होल्डर लगा दिए हैं, लेकिन बल्ब अब तक नहीं लगाए हैं।

सीएम हेल्पलाइन में की

शिकायत

आदिवासी परिवार के सदस्यों ने बताया बिजली सप्लाई जल्द से जल्द शुरू करने के लिए हमने सीएम हेल्पलाइन में भी शिकायत की है। इसके बाद भी कंपनी के अधिकारियों द्वारा ध्यान नहीं दिया जा रहा है। अब तक बिजली सप्लाई शुरू नहीं हो पाई है। ऐसे में आदिवासी परिवारों को अब भी अंधेरे में ही रहना पड़ रहा है।

X
स्पार्किंग के कारण नौसर में टूटा 11 केवी का तार, तीन घंटे बंद रही 38 गांवों की सप्लाई
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..