टिमरनी

--Advertisement--

बस स्टैंड नहीं, मार्ग पर खड़ी होती हैं बसें, लगता है जाम

सर्व सुविधा युक्त बस स्टैंड का नहीं होना क्षेत्र की सबसे प्रमुख समस्याओं में से एक है। इस कारण हर दिन यात्रियों को...

Dainik Bhaskar

Apr 28, 2018, 06:35 AM IST
बस स्टैंड नहीं, मार्ग पर खड़ी होती हैं बसें, लगता है जाम
सर्व सुविधा युक्त बस स्टैंड का नहीं होना क्षेत्र की सबसे प्रमुख समस्याओं में से एक है। इस कारण हर दिन यात्रियों को परेशान होना पड़ रहा है। यात्रियों को भीषण गर्मी में धूप में खड़े होकर बसों का इंतजार करना पड़ रहा है। साथ ही पीने के पानी के लिए दुकानों व होटलों पर जाना पड़ता है।

होशंगाबाद-खंडवा स्टेट हाईवे होने के बाद भी छीपाबड़ में बस स्टैंड नहीं है। यहां से दिन भर में 50 से अधिक बसें गुजरती हैं। जहां से सैकड़ों ग्रामीण बसों का इंतजार करते हैं। लेकिन इसके बाद भी नगर परिषद बस स्टैंड का निर्माण नहीं करा रही है। बस स्टैंड के अभाव में बसें छीपाबड़ में थाना चौराहे पर खड़ी रहती हैं। इस कारण दिनभर लगता रहता है। चौराहे पर चारुवा, हरदा, खंडवा और खिरकिया के लिए बसें जाती हैं। स्टेट हाईवे भी जुड़ा होने से विकासखंड के अन्य गांवों की ओर जाने वाले यात्री भी यही उतरते हैं।

पानी और शौचालय की नहीं है व्यवस्था

बस स्टैंड के नहीं होने से यात्रियों को सुविधाएं भी नहीं मिल पा रही है। न तो पेयजल की व्यवस्था है और न ही यात्रियों के लिए शौचालय की सुविधा है। ऐसे में सबसे ज्यादा परेशानी महिलाओं और बुजुर्गों को होती है। धूप में ही यात्रियों को पेड़ों व होटलों में बैठकर गर्मी व बारिश में बसों का इंतजार करना पड़ता है। यहां से चारुवा, मोरगड़ी, पहटकलां, पोखरनी, मुहाल, मांदला जैसे गांव भी जुड़े हैं।

जल्द ही समस्या का समाधान करेंगे


पार्किंग नहीं होने से बैंकों के सामने नेशनल हाईवे पर खड़े हो रहे वाहन, लगता है बार-बार जाम

टिमरनी। बैंकों के सामने अव्यवस्थित खड़े वाहन।

टिमरनी| नेशनल हाईवे और मुख्य मार्ग पर स्थित बैंक शाखाओं के पास पार्किंग की व्यवस्था नहीं है। इस कारण उपभोक्ता सड़क किनारे ही वाहन खड़े कर देते हैं। इससे रास्ते से निकले वाले दूसरे वाहन चालकों को निकलने में परेशानी होती है और बार-बार जाम की स्थिति निर्मित हो रही है।

नगर की नेशनल हाईवे व मुख्य मार्ग पर संचालित 5 बैंकों में से किसी के पास भी पार्किंग नहीं है। उपभोक्ता यहां-वहां सड़क पर वाहन खड़े कर देते हैं। सबसे ज्यादा जाम की स्थिति भारतीय स्टेट बैंक की शाखा के सामने बनती है। इस कारण कई बार हादसे भी हो चुके हैं। वहीं मुख्य मार्ग पर बैंक ऑफ इंडिया, सेंट्रल बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र की शाखा के सामने में जाम लगना आम बात है। लेकिन इस ओर बैंक प्रबंधकों का ध्यान नहीं है और न ही पुलिस प्रशासन ध्यान दे रहा है। लोगों ने समस्या के समाधान की मांग की है।


X
बस स्टैंड नहीं, मार्ग पर खड़ी होती हैं बसें, लगता है जाम
Click to listen..