टिमरनी

  • Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Timarni News
  • कुसुम वेयर हाउस पर 100 हम्मालों को नहीं मिली 2.20 लाख रुपए मजदूरी, केंद्र पर बंद की तुलाई
--Advertisement--

कुसुम वेयर हाउस पर 100 हम्मालों को नहीं मिली 2.20 लाख रुपए मजदूरी, केंद्र पर बंद की तुलाई

जिला सहकारी समिति सोडलपुर के खरीदी केंद्र कुसुम वेयर हाउस पर कार्य करने वाले 100 हम्मालों को मजदूरी नहीं मिली तो...

Dainik Bhaskar

Apr 12, 2018, 07:25 AM IST
कुसुम वेयर हाउस पर 100 हम्मालों को नहीं मिली 2.20 लाख रुपए मजदूरी, केंद्र पर बंद की तुलाई
जिला सहकारी समिति सोडलपुर के खरीदी केंद्र कुसुम वेयर हाउस पर कार्य करने वाले 100 हम्मालों को मजदूरी नहीं मिली तो उन्होंने बुधवार को तुलाई कार्य बंद कर दिया। हम्मालों को 2.60 में से सिर्फ 40 हजार की राशि मिली। 2.20 लाख बकाया होने पर उन्होंने विरोध किया। इससे केंद्र पर खरीदी बंद रही। जब किसानों को पता चला तो आक्रोशित किसान तहसील कार्यालय पहुंच गए। जहां शिकायत के बाद तहसीलदार अलका एक्का ने समिति प्रबंधक मनोज नायर को फोन पर फटकार लगाई।

रहटगांव रोड स्थित कुसुम वेयर हाउस पर 5 दिनों से किसान समर्थन मूल्य पर उपज बेचने का इंतजार कर रहे हैं। उपज नहीं बिकने से बुधवार को किसान आक्रोशित हो गए। सोडलपुर के किसान गोपाल सोलंकी, मूलचंद कछवाह, रविशंकर आंजने ने तहसीलदार अलका एक्का को बताया वे शुक्रवार को समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचने के लिए आए थे, लेकिन अब तक खरीदी नहीं हो सकी है। आखिर किसानों को 5 से 6 दिनों तक उपज बेचने के लिए केंद्रों पर इंतजार करना पड़ रहा है।

पांच में से 4 दिन नहीं हुई खरीदी

समर्थन मूल्य पर उपज बेचने के लिए किसान पांच दिनों से इंतजार कर रहे हैं। शनिवार और रविवार को अवकाश के कारण खरीदी नहीं हुई। वहीं सोमवार को खरीदी हुई, लेकिन 25 किसानों से गेहूं खरीदा गया। मंगलवार को भारत बंद के कारण कलेक्टर ने मंडी बंद रखने के आदेश दिए थे। इससे खरीदी नहीं हुई। किसानों को बुधवार को आस थी, लेकिन हम्मालों के विरोध के कारण खरीदी नहीं हो सकी। इससे किसान काफी परेशान हैं।

टिमरनी। तहसीलदार को समस्या बताते किसान।

किसानों ने की समिति प्रबंधक को हटाने की मांग

जब हम्मालों को मजदूरी नहीं मिली तो किसान हम्मालों के साथ आक्रोशित हो गए और दोपहर 2 बजे तहसील कार्यालय पहुंचकर हंगामा शुरू कर दिया। किसानों ने तहसीलदार अलका एक्का को हम्मालों को राशि नहीं मिलने से खरीदी बंद होने की शिकायत की। भारतीय किसान यूनियन के शैलेंद्र वर्मा, बसंत रायखेरे ने कहा समिति प्रबंधक मनोज नायर की लापरवाही से समर्थन मूल्य केंद्र पर खरीदी नहीं हो पा रही है, इसलिए तत्काल समिति प्रबंधक को हटाया जाए। साथ ही हम्मालों को जल्द से जल्द राशि दी जाए, जिससे समय से किसानों का गेहूं तुल सके।

337 किसानों से की खरीदी

जिला सहकारी समिति सोडलपुर में खरीदी कार्य काफी धीमी गति से चल रहा है। समिति पर 749 किसानों ने गेहूं बेचने के लिए पंजीयन कराया, इसमें से अब तक 337 किसानों से गेहूं खरीदा है। खरीदी कार्य धीमी गति से होने से किसान चिंतित हैं। केंद्र पर 150 से अधिक ट्रॉलियों की लाइन लगी हुई है। किसान 5 दिनों से गेहूं तुलने का इंतजार कर रहे हैं।

हम्मालों ने कटि्टयों की सिलाई की

वेयरहाउस में काम करने वाले करीब 100 हम्मालों की मजदूरी 2.20 लाख रुपए बकाया है। इससे हम्मालों ने तुलाई बंद कर दी। सोमवार को खरीदी कट्टियों की सिलाई का कार्य नहीं किया था। जिसे हम्मालों ने बुधवार टैग लगाकर सिलाई की। किसान दौलतराम टांक व दिनेश मंडराई का कहना है हम्माल यह कार्य मंगलवार को भी कर सकते थे। अगर ऐसा होता तो बुधवार को खरीदी शुरू हो जाती।

समिति प्रबंधक को समाधान के निर्देश दिए हैं


बाकी भुगतान आज कर देंगे


सैंपल के नाम पर ले रहे 1 किलो प्रति क्विंटल गेहूं

श्याम वेयर हाउस पर खाद्य अधिकारी ने बनाया पंचनामा

टिमरनी। श्याम वेयर हाउस पर हंगामा करते किसान।

भास्कर संवाददाता। टिमरनी

तमाम निर्देशों के बाद भी समर्थन मूल्य पर खरीदी में समिति प्रबंधक किसानों को लूट रहे हैं। बुधवार को हरदा रोड स्थित श्याम वेयर हाउस पर चल रही खरीदी का भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश सचिव शैलेंद्र वर्मा व जिलाध्यक्ष बसंत रायखेरे ने निरीक्षण किया। इसमें वेयर हाउस पर किसानों के साथ हो रही लूट का खुलासा हुआ। हर किसान से सैंपल के नाम पर 1 से 2 किलो गेहूं लिया जा रहा है, जो नियम विरुद्ध है। इसके बाद यूनियन के सदस्यों ने एसडीएम पीके पांडे को सूचना दी। उनके निर्देश पर खाद्य अधिकारी आपूर्ति पटेल मौके पर पहुंची और पंचनामा बनाया।

शैलेंद्र वर्मा ने बताया किसानों से प्रति ट्रॉली 45 किलो गेहूं ज्यादा लिया जा रहा है, इसकी सूचना एसडीएम पीके पांडे को दी। तुरंत खाद्य अधिकारी आपूर्ति पटेल ने मौके पर पहुंचकर जांच की। यहां ट्रॉली कांटे में भी अंतर आया। जब वेयर हाउस के कांटे पर खाली ट्रॉली का भजन कराया तो 79.10 क्विंटल वजन आया, वहीं जब पास के अन्नपूर्णा वेयर हाउस पर ट्रॉली का वजन कराया तो 79.55 क्विंटल वजन निकला। श्याम वेयर हाउस पर अब तक 37 हजार क्विंटल गेहूं की खरीदी हो चुकी है। जिसमें लगभग 925 ट्रॉली की तुलाई हुई है, ऐसे में प्रति ट्रॉली 40 किलो गेहूं अधिक लिया है। जब किसानों को इसकी जानकारी लगी तो उन्होंने जमकर हंगामा किया। मामले में अधिकारी का कहना है वरिष्ठ अधिकारी को रिपोर्ट सौंपी जाएगी। इसके बाद कार्रवाई होगी।

X
कुसुम वेयर हाउस पर 100 हम्मालों को नहीं मिली 2.20 लाख रुपए मजदूरी, केंद्र पर बंद की तुलाई
Click to listen..