• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Timarni News
  • रहटगांव सहकारी शाखा प्रबंधक को बस स्टैंड पर किसान ने पीटा, टेमागांव समिति प्रबंधक से की झूमाझटकी
--Advertisement--

रहटगांव सहकारी शाखा प्रबंधक को बस स्टैंड पर किसान ने पीटा, टेमागांव समिति प्रबंधक से की झूमाझटकी

भास्कर संवाददाता| टिमरनी/ हरदा टिमरनी बस स्टैंड चौराहे पर मंगलवार को किसान ने जिला सहकारी बैंक शाखा रहटगांव के...

Danik Bhaskar | Apr 25, 2018, 07:55 AM IST
भास्कर संवाददाता| टिमरनी/ हरदा

टिमरनी बस स्टैंड चौराहे पर मंगलवार को किसान ने जिला सहकारी बैंक शाखा रहटगांव के शाखा प्रबंधक की पिटाई करने और टेमागांव समिति प्रबंधक के साथ झूमाझटकी कर मोबाइल फेंकने का मामला सामने आया है। घटना के विरोध में आक्रोशित समिति व बैंक प्रबंधकों ने एसडीएम और टीआई से शिकायत की। साथ ही हरदा में कलेक्टर के नाम का ज्ञापन सौंपते हुए 24 घंटे में कार्रवाई करते हुए आरोपी किसान पर एफआईआर दर्ज करने की मांग की। ऐसा नहीं होने पर बुधवार से खरीदी बंद करने की चेतावनी दी।

जिला सहकारी बैंक शाखा रहटगांव के शाखा प्रबंधक रवींद्र अग्रवाल ने आरोप लगाया मंगलवार सुबह 9.30 बजे बस स्टैंड चौराहे पर टिमरनी के किसान योगेश तिवारी ने उनके साथ मारपीट की। इसके बाद उन्होंने टेमागांव समिति प्रबंधक विनय कनेरे को बुलाया तो उनके साथ भी झूमाझटकी। साथ ही मोबाइल भी फेंक दिया। घटना के बाद दोनों एसडीएम पीके पांडे के पास शिकायत लेकर पहुंचे और मामले में कार्रवाई की मांग की। साथ ही टिमरनी थाने में आरोपी किसान योगेश तिवारी के खिलाफ कार्रवाई के लिए शिकायती आवेदन दिया।

एसडीएम ने दिए जांच के आदेश

घटना के विरोध में बैंक शाखा प्रबंधक और समिति प्रबंधक एसडीएम पीके पांडे के पास पहुंचे। जानकारी लगते ही अन्य समिति प्रबंधक भी आ गए। इसके बाद उन्होंने एसडीएम से कहा जब तक मामले में कार्रवाई नहीं की जाती वे खरीदी नहीं करेंगे। लेकिन एसडीएम ने प्रबंधकों से खरीदी जारी रखने के लिए कहा। साथ ही मामले की जांच के आदेश दिए हैं। इसके बाद दोनों आरोपी किसान के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के लिए टिमरनी थाने पहुंचे, जहां शिकायती आवेदन दिया।



हरदा। कलेक्टर के नाम का ज्ञापन सौंपते समिति कर्मचारी।

किसान का आरोप: 1.80 लाख देने पर भी समिति प्रबंधक ने जमा नहीं किए

वहीं किसान योगेश तिवारी का आरोप है मैंने टेमागांव समिति प्रबंधक विनय कनेरे को अपने खाते की ऋण वसूली की राशि के 1.80 लाख एक सप्ताह पहले दे दी थी। लेकिन समिति प्रबंधक ने अब तक राशि जमा खाते में जमा नहीं कराई है और उल्टे राशि नहीं देने का आरोप लगाते हुए पहले ऋण वसूली के लिए दबाव बनाया जा रहा है। इस कारण प्रशासन और पुलिस में शिकायती आवेदन दिया है। इस पर कार्रवाई अब तक नहीं की है। विरोध में बुधवार से धरना प्रदर्शन शुरू करूंगा।

ऋण वसूली के बजाए उपज का भुगतान का दबाव बना रहा किसान

टेमागांव समिति प्रबंधक विनय कनेरे ने आरोप लगाया आरोपी किसान योगेश तिवारी की जमीन भादूगांव में है। इसकी उपज किसान ने सहकारी समिति टेमागांव के केंद्र तरुण वेयरहाउस पर 17 अप्रैल को बची। किसान ने 85.90 क्विंटल उपज का विक्रय किया। लेकिन किसान दबाव बना रहा है कि उसके द्वारा समिति से 1.80 लाख की ऋण वसूली करने के बजाए बेची उपज की राशि का भुगतान किया जाए। इसी से नाराज होकर किसान ने वारदात को अंजाम दिया।

कार्रवाई नहीं तो आज से नहीं होगी खरीदी

घटना के विरोध में बैंक व समिति प्रबंधकों ने कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपा। मध्य प्रदेश सहकारिता समिति कर्मचारी महासंघ के जिलाध्यक्ष मुकेश कुमार तिवारी ने बताया सहकारी समिति व बैंक कर्मचारी दिन-रात किसानों के हित में काम कर रहे हैं। इसके बाद कुछ लोग परेशान कर रहे हैं। मामले में आरोपी किसान की 24 घंटे में कार्रवाई नहीं की जाती है तो बुधवार से जिलेभर में खरीदी बंद रहेगी।

जांच करने के बाद कार्रवाई की जाएगी


राशि जमा करने नहीं दी है


दोनों के आवेदन की जांच कर रहे हैं