• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Timarni
  • मंडी में किसानों की उपज तौलने बने टीन शेडों में 20 व्यापारियों का कब्जा
--Advertisement--

मंडी में किसानों की उपज तौलने बने टीन शेडों में 20 व्यापारियों का कब्जा

Dainik Bhaskar

May 06, 2018, 08:30 AM IST

Timarni News - कृषि उपज मंडी में किसानों की उपज तौलने के लिए बने टीन शेड में 20 व्यापारियों ने कब्जा जमा रखा है। वर्षों से व्यापारी...

मंडी में किसानों की उपज तौलने बने टीन शेडों में 20 व्यापारियों का कब्जा
कृषि उपज मंडी में किसानों की उपज तौलने के लिए बने टीन शेड में 20 व्यापारियों ने कब्जा जमा रखा है। वर्षों से व्यापारी इन शेडों का उपयोग अस्थाई गोदाम के रूप में कर रहे हैं। वर्तमान में किसानों की उपज तेज गर्मी में धूम में तुल रही है। इस कारण हम्मालों व किसानों को खासी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

मंडी प्रबंधन ने 2015 में व्यापारियों की दुकानों के सामने किसानों को उपज तुलाई की सुविधा देने के लिए 30 लाख की लागत से शेड का निर्माण कराया था। इसमें 26 दुकानों के सामने शेड बनाए। शेड निर्माण किए जाने के पीछे उद्देश्य यह था मंडी में भाव होने के बाद किसानों की उपज का तौल व्यापारियों की दुकानों पर सुविधा जनक रुप से हो सके। साथ ही तेज धूप और बारिश से किसान और व्यापारी के अनाज भी सुरक्षित रह सके, लेकिन अब टीन शेडों पर अधिकांश व्यापारियों ने अपना कब्जा जमा लिया है। शेडों को अस्थाई गोदाम में परिवर्तित कर दिया है। यहां लंबे समय से मंडी व्यापारियों का अनाज बोरियों में भरकर रख रहे हैं। मंडी प्रबंधन को भी है। लेकिन अधिकारी भी अनदेखी कर रहे हैं। इस उदासीनता का खामियाजा किसानों को उठाना पड़ रहा है। शेडों में व्यापारियों की उपज रखी है और किसानों की उपज की तुलाई धूप में हो रही है।

टिमरनी। टीन शेड में व्यापारियों ने कब्जा कर रखी अपनी उपज।

टीन शेडों में व्यापारियों के कब्जे की वजह से किसानों का गेहूं खुले में रखा रहता है।

प्रबंधन समझाइश दे तो भाव बंद कर देते हैं व्यापारी

जब भी मंडी में असुविधा बनती है तो मंडी प्रबंधन व्यवस्था बनाने को लेकर व्यापारियों को समझाईश देता है। मंडी समिति के सूत्रों ने बताया जब भी व्यापारियों को समझाने की बात आती है तो अधिकांश व्यापारी नीलामी बंद कर देते है। जिसके कारण किसानों की लाई गई उपज बिक नहीं पाती। इससे किसान नाराज होते हैं। ऐसा कई बार हो चुका है। जिसके कारण मंडी प्रबंधन बेबस हो जाता है।

सीसीटीवी से नहीं हो पा रही निगरानी

कृषि उपज मंडी परिसर में मंडी प्रांगण की सुरक्षा को लेकर प्रबंधन ने सीसीटीवी कैमरे लगाए हैं। यह कैमरे मंडी परिसर सहित व्यापारी प्रतिष्ठानों तक भी निगरानी रखते हैं। लेकिन फिलहाल टीन शेडों में रखे व्यापारियों के अनाज के कारण सीसीटीवी की नजर वहां तक नहीं पहुंच पा रही है। जिससे व्यापारियों की दुकानों पर क्या चल रहा है इसका पता नहीं चलता। जिससे किसान की उपज के साथ गोलमाल की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता। साथ ही भुगतान किए जाने में गड़बड़ी से भी इनकार नहीं किया जा सकता।

उचित कार्रवाई की जाएगी


मंडी में किसानों की उपज तौलने बने टीन शेडों में 20 व्यापारियों का कब्जा
X
मंडी में किसानों की उपज तौलने बने टीन शेडों में 20 व्यापारियों का कब्जा
मंडी में किसानों की उपज तौलने बने टीन शेडों में 20 व्यापारियों का कब्जा
Astrology

Recommended

Click to listen..