--Advertisement--

घौंसला में 15 क्विंटल बबूल की लकड़ियों से तैयार की थी चूल

प्राचीन मनकामनेश्वर महादेव मंदिर पर चूल का आयोजन किया गया। कई सालों से चल रही यह अास्था व विश्वास की प्रथा धुलेंडी...

Dainik Bhaskar

Mar 04, 2018, 07:40 AM IST
घौंसला में 15 क्विंटल बबूल की लकड़ियों से तैयार की थी चूल
प्राचीन मनकामनेश्वर महादेव मंदिर पर चूल का आयोजन किया गया। कई सालों से चल रही यह अास्था व विश्वास की प्रथा धुलेंडी पर शुक्रवार को चूल पर लोग चले। इसमें 15 क्विंटल बबूल की लकड़ी डाल चूल तैयार की गई। सबसे पहले मंदिर पुजारी बाबूलाल उपाध्याय निकले। इसके बाद सैकड़ों बड़े और बच्चे निकले। इसमें राघवी थाना थाना प्रभारी दिनेश भोजक व पुलिस बल तैनात रहा। तहसीलदार मुनिया, नायब तहसीलदार आर.के. मित्तल, सरपंच दीपक वर्मा, टीआई भोजक का समिति ने स्वागत किया। साथ ही पंचायत कर्मियों सहित अन्य लोगों का सहयोग रहा। कार्यक्रम को बाबूलाल कंपाउंडर ने भी संबोधित किया। जानकारी मंदिर पुजारी उपाध्याय ने दी।

धर्मध्वजा चढ़ाई

मनकामनेश्वर महादेव मंदिर पर धुलेंडी के अवसर पर 15,001 की सर्वाधिक बोली लगाकर गोरु काका नायक घौंसला ने मंदिर पर धर्मध्वजा चढ़वाई।

धर्म ध्वजा लेते थामे गोरु काका।

X
घौंसला में 15 क्विंटल बबूल की लकड़ियों से तैयार की थी चूल

Recommended

Click to listen..