--Advertisement--

होली पर घर-घर बन रही सेव

मड़ावदा | करीब 1500 घरों की बस्ती वाले गांव में वर्षों पुरानी सेव बनाने की परंपरा निभाई जा रही है। बुधवार से गांव में...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 07:10 AM IST
मड़ावदा | करीब 1500 घरों की बस्ती वाले गांव में वर्षों पुरानी सेव बनाने की परंपरा निभाई जा रही है। बुधवार से गांव में सेव बनाने का सिलसिला चालू हो गया है, जो रंगपंचमी तक चलेगा। प्रत्येक ग्रामीण द्वारा 5 से 10 किलो तक कारीगर से सेव बनवाई जा रही है। सेव बनवाने की सामग्री बेसन, तेल, मशाला ग्रामीण अपने घर से ला रहे। कारीगर 5 किलो सेव बनाने के 400 रुपए ले रहे है। ग्रामवासियों ने बताया दीपावली पर जिस तरह मिठाइयां बनाई जाती है, उसी तरह गांव में सेव बनती है। जिसे परिवार के लोग अपने रिश्तेदारों में भी गांव की बनी सेव पहुंचाते है।