--Advertisement--

आओ हम सब खेले होली.. नहीं बोले कोई कड़वी बाेली..

आओ हम सब खेले होली.. नहीं बोले कोई कड़वी बाेली.. उज्जैन | आओ हम सब खेले होली.. नहीं बोले कोई कड़वी बाेली.. प्रेम के...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 05:55 AM IST
आओ हम सब खेले होली.. नहीं बोले कोई कड़वी बाेली..

उज्जैन |
आओ हम सब खेले होली.. नहीं बोले कोई कड़वी बाेली.. प्रेम के रंग में सब को रंग डाले... नफरत दिल में कोई ना पाले। भोपाल से आए वीर रस के कवि मदनमोहन समर सहित देशभर के कवियाें की कृति सुनकर मलीपुरा क्षेत्र श्रोताओं की तालियों से गूंज उठा। श्रृंगार, हास्य और वीर रस की कविताओं ने हाेली उपलक्ष्य में मालीपुरा में आयोजित कवि सम्मेलन में आधी रात तक लोगों को बांधे रखा। मालीपुरा सांस्कृतिक समिति द्वारा आयोजित कवि सम्मेलन में निंबाहेड़ा से कवि शांति तूफान, दीपक पारीख भीलवाड़ा, राजेंद्र शर्मा चित्तौडगढ, डॉ भुवन मोहिनी इंदौर, कर्नल हजारी हवलदार शुजालपुर, मेघ श्याम मेघ भरतपुर उत्तरप्रदेश , अशोक भाटी उज्जैन आदि कवियों ने कविता पाठ किया। समिति के सत्यनारायण चौहान ने बताया देवास के कवि शशिकांत यादव ने संचालन किया। मुख्य अतिथि मंत्री पारस जैन थे। इनसेट कर्नल हजारी हवलदार कवितापाठ करते हुए।