--Advertisement--

बजट का उज्जैन पर असर

आम बजट में सरकार ने हेरिटेज सिटी योजना और 110 पुरातत्व स्मारकों के विकास की घोषणा की है। अभी हेरिटेज सिटी के नामों का...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 06:50 AM IST
बजट का उज्जैन पर असर
आम बजट में सरकार ने हेरिटेज सिटी योजना और 110 पुरातत्व स्मारकों के विकास की घोषणा की है। अभी हेरिटेज सिटी के नामों का खुलासा नहीं हुआ है लेकिन यहां के अधिकारियों को उम्मीद है कि हेरिटेज सिटी स्कीम से शहर के विकास के लिए फंड मिलेगा। हेरिटेज से जुड़ा प्रोजेक्ट हेरिटेज वॉक तैयार भी है।

वेधशाला को विश्व धरोहर के रूप में भी मान्यता दिलाने के लिए प्रस्ताव है। वैश्य टेकरी केंद्रीय पुरातत्व विभाग की सूची में दर्ज है। यहां केंद्र सरकार की ओर से सुरक्षा के लिए एक चौकीदार भी नियुक्त है। दोनों स्मारकों के अलावा शहर में और भी पुरातत्व और हेरिटेज स्थल हैं। महाकालेश्वर मंदिर, राम जनार्दन मंदिर, भर्तृहरि गुफा, काल भैरव, ओखलेश्वर श्मशान, सांदीपनि आश्रम, सिद्धवट, रूमी का मकबरा, विष्णु चतुष्टिका, कालियादेह पैलेस जैसे अनेक स्थलों के कारण शहर को केंद्र सरकार ने हेरिटेज के मापदंड पर 2005 में जेएनएनयूआरएम प्रोजेक्ट में शामिल किया था तथा पर्यटन व जनसुविधाओं के लिए 147 करोड़ रु. मंजूर किए थे। स्मार्ट सिटी योजना में भी 200 करोड़ रु. की मंजूरी मिली है। अमृत मिशन में 500 करोड़ रु. की योजनाएं मंजूर की गई हैं। केंद्र सरकार ने महाकाल मंदिर को देश के सर्वश्रेष्ठ आइकोनिक स्थलों में शामिल किया है। सांसद डॉ. चिंतामणि मालवीय के अनुसार उज्जैन को इन योजनाओं का फायदा मिलने की उम्मीद है।

अमृत, स्मार्ट के बाद अब हेरिटेज सिटी

हेरिटेज सिटी योजना से वेधशाला व वैश्य टेकरी जैसे स्थानों के लिए फंड मिलने की उम्मीद

जीवाजी वेधशाला

स्टेशन पर एस्केलेटर, बड़नगर रतलाम ट्रैक का विद्युतीकरण

उज्जैन रेलवे स्टेशन पर एस्केलेटर (चलित सीढिय़ां) लगाईं जाएंगी। यह प्लेटफार्म नंबर एक पर लगेगी। गुरुवार को आम बजट में रेलवे से जुड़ी घोषणाएं हुईं। उज्जैन रेलवे स्टेशन पर रोज 25 हजार से ज्यादा यात्रियों का आवागमन होता है, इसलिए यहां पर एस्केलेटर सुविधा मिलेगी। स्टेशन के बाद अब यहां से गुजरने वाली 96 ट्रेन में यात्रियों को वाई-फाई की सुविधा मिलने लगेगी। यात्रियों की सुरक्षा के लिए फॉग सेफ, ट्रेन प्रोटेक्शन के साथ वॉर्निंग सिस्टम जैसी प्रौद्योगिकी का पहली बार प्रयोग किया जाएगा। दो साल में मानव रहित क्रॉसिंग खत्म कर दिए जाएंगे। बड़नगर से रतलाम तक ट्रैक का विद्युतीकरण भी किया जाएगा।

जिले के 28 हजार करदाताओं को स्टैंडर्ड डिडक्शन से राहत

आम बजट में टैक्स में स्टैंडर्ड डिडक्शन की घोषणा से जिले में 28 हजार नौकरी पेशा करदाताओं को इस छूट का फायदा मिलेगा। नौकरीपेशा करदाता अगर तीन लाख रुपए तक की आय प्राप्त करता है तो उन्हें 2 हजार रुपए सालाना बचत हो सकेगी। अगर 3 लाख रुपए कमाई है तो 40 हजार रुपए तक की स्टैंडर्ड डिडक्शन मिल जाएगी। यानी कर योग्य आय 2.60 लाख रुपए रह जाएगी। जिससे 10 हजार रुपए पर 5 प्रतिशत के आधार पर 500 रुपए आयकर चुकाना होगा। पहले 3 लाख रुपए तक की आय पर 2500 रुपए तक टैक्स देना पड़ता था। हालांकि दो एलाउंस खत्म करने से सेलेरी करदाताओं को ज्यादा फायदा नहीं हुआ।

हेरिटेज के लिए स्मार्ट सिटी तैयार

स्मार्ट सिटी कंपनी के सीईओ अवधेश शर्मा ने बताया कंपनी ने हेरिटेज वॉक की योजना बनाई है। पर्यटन विकास निगम के सहयोग से इसे लागू की जाएगी। हेरिटेज वॉक में प्राचीन दर्शनीय स्थल, पुरातत्व महत्व व ऐतिहासिक स्थलों को शामिल किया है। सरकार यदि हेरिटेज सिटी में शहर को शामिल कर योजना मांगती है तो हम प्रस्तुत करने को तैयार हैं।

X
बजट का उज्जैन पर असर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..