Hindi News »Madhya Pradesh »Ujjain» ऑडिट में कुलपति-कुलसचिव सहित 110 कर्मचारियों का वेतन रोका, धरना

ऑडिट में कुलपति-कुलसचिव सहित 110 कर्मचारियों का वेतन रोका, धरना

महीने की पहली तारीख को वेतन नहीं मिलने पर गुरुवार को विक्रम विश्वविद्यालय में हंगामा हो गया। ऑडिट द्वारा आपत्ति...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 06:50 AM IST

महीने की पहली तारीख को वेतन नहीं मिलने पर गुरुवार को विक्रम विश्वविद्यालय में हंगामा हो गया। ऑडिट द्वारा आपत्ति लिए जाने के कारण कुलपति आैर कुलसचिव सहित 110 कर्मचारियों को गुरुवार को वेतन नहीं मिल सका। वेतन नहीं मिलने से नाराज कर्मचारी विरोध में उतर आए, जिसके कारण एक घंटे तक विश्वविद्यालय में कामकाज ठप रहा। विश्वविद्यालय में चल रहे ऑडिट के दौरान फिक्सेशन व अन्य दस्तावेजों की पूर्ति को लेकर आपत्तियां लगाई गई थीं, जिसके कारण कुलपति प्रो. एसएस पांडेय आैर कुलसचिव डॉ. परीक्षित सिंह के अलावा मुख्य प्रशासनिक भवन में काम करने वाले उपकुलसचिव, सहायक कुलसचिव, अधीक्षक सहित 110 कर्मचारियों के वेतन की स्वीकृति नहीं हो पाई। गुरुवार को इन लोगों का वेतन जारी नहीं हो सका। वेतन नहीं आने की जानकारी जब कर्मचारियों को लगी तो सुबह 11 बजे सभी कर्मचारियों ने मुख्य प्रशासनिक भवन के बाहर एकत्रित होकर काम बंद कर दिया। तृतीय श्रेणी कर्मचारी संघ के अध्यक्ष अमरनाथ सिंह एवं चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संघ के अध्यक्ष लक्ष्मीनारायण संगत के साथ सभी कर्मचारियों ने ऑडिट के खिलाफ नारेबाजी की। लगभग एक घंटे तक कामकाज पूरी तरह ठप रहा। इस कारण दूरदराज से मार्कशीट निकलवाने, अंकसूची में संशोधन कराने सहित अन्य कार्यों के लिए आए विद्यार्थियों को परेशान होना पड़ा। ऑडिट अधिकारियों ने कर्मचारियों को वेतन स्वीकृति का आश्वासन दिया, जिसके बाद कर्मचारी काम पर लौटे। कुलसचिव डॉ. सिंह ने बताया कुछ कागजी खानापूर्ति के कारण वेतन स्वीकृति नहीं हो पाई थी। गुरुवार दोपहर इसकी पूर्ति करते हुए वेतन की स्वीकृति हो गई है। शुक्रवार को वेतन खातों में आ जाएगा।

ऑडिट कक्ष में धरने पर बैठे कर्मचारी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ujjain

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×