• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Ujjain
  • 14 राज्यों की 500 मंडियां जुड़ेंगी, ऑनलाइन सैंपल के आधार पर होगी फसल की नीलामी
--Advertisement--

14 राज्यों की 500 मंडियां जुड़ेंगी, ऑनलाइन सैंपल के आधार पर होगी फसल की नीलामी

राष्ट्रीय कृषि बाजार के तहत देश के 14 राज्यों की 500 मंडियां ऑनलाइन जुड़ जाएंगी। इनमें सैंपल के आधार पर नीलामी होगी।...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 07:40 AM IST
राष्ट्रीय कृषि बाजार के तहत देश के 14 राज्यों की 500 मंडियां ऑनलाइन जुड़ जाएंगी। इनमें सैंपल के आधार पर नीलामी होगी। व्यापारी घर बैठे उपज नीलाम कर सकेंगे। किसानों को उपज का पूरा भुगतान भी ऑनलाइन किया जाएगा। मंडी बोर्ड इसकी तैयारी कर रहा है। इसके लिए एक निजी एजेंसी के प्रतिनिधि प्रदेश की सभी मंडियों में जाकर पावर पाइंट प्रेजेंटेशन के जरिए विभिन्न वर्गों को प्रशिक्षण दे रहे हैं।

कृषि मंडी में बुधवार को व्यापारियों को प्रशिक्षण दिया। राष्ट्रीय कृषि बाजार प्रभारी प्रवीण चौहान के अनुसार चार दिनी प्रशिक्षण की शुरुआत सोमवार से हो गई है। पहले दिन मंडी कर्मचारियों, दूसरे दिन किसानों, तीसरे दिन व्यापारियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसका दायित्व प्रदेश सरकार ने एक निजी एजेंसी को दिया है। एजेंसी प्रतिनिधि चौथे दिन मंडी की व्यवस्थाओं का जायजा लेंगे।

ऐसे होगी खरीदी-बिक्री

राष्ट्रीय कृषि बाजार के लिए मंडी में सेटअप तैयार हो गया है। एक अलग कमरा भी है। चौहान ने बताया किसान की फसल का सेंपल लेकर उसकी ग्रेडिंग की जाएगी। इसके बाद उसे ऑनलाइन प्रदर्शित किया जाएगा। व्यापारी उसे लेकर बोली लगाएंगे। किसान स्वतंत्र होंगे कि वे किसी बोली पर उपज बेचें।

व्यापारी समर्थन में नहीं

व्यापारी अभी भी ई-मंडी के समर्थन में नहीं आए हैं। अनाज तिलहन व्यवसायी संघ के सचिव जितेंद्र अग्रवाल के अनुसार ई-मंडी की शुरुआत करने से पहले मंडी समिति की ओर से सभी व्यापारियों को प्रशिक्षण दिया जाए। उन्हें ई-मंडी के संबंध में पूरी जानकारी ही नहीं है। उन्हें उन मंडियों का दौरा करने का अवसर दें जहां पर ई-मंडी चल रही है।