Hindi News »Madhya Pradesh »Ujjain» 4 महीने से एएनएम नहीं, नर्स भी हड़ताल पर, स्वास्थ्य विभाग ने ग्रामीण एएनएम से लगवाए बच्चों को टीके

4 महीने से एएनएम नहीं, नर्स भी हड़ताल पर, स्वास्थ्य विभाग ने ग्रामीण एएनएम से लगवाए बच्चों को टीके

शासकीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर एएनएम नहीं होने व विभाग के संविदा कर्मचारियों की हड़ताल के बावजूद बुधवार को...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 01, 2018, 07:45 AM IST

4 महीने से एएनएम नहीं, नर्स भी हड़ताल पर, स्वास्थ्य विभाग ने ग्रामीण एएनएम से लगवाए बच्चों को टीके
शासकीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर एएनएम नहीं होने व विभाग के संविदा कर्मचारियों की हड़ताल के बावजूद बुधवार को स्वास्थ्य विभाग ने टीकाकरण अभियान चलाया। बीएमओ डॉ. संजीव कुमरावत ने बताया 4 महीने से अस्पताल में एएनएम का एक पद रिक्त है। वहीं एक संविदाकर्मी में नर्स नियुक्त है। मगर 19 फरवरी से संविदा कर्मचारियों की हड़ताल के कारण नर्स भी चली गई। इससे व्यवस्था और बिगड़ गई। बुधवार को महकमे काे टीकाकरण अभियान भी चलाना जरुरी था। तब विभाग ने ग्रामीण क्षेत्रों की एएनएम को बुलाकर उनसे बच्चों को टीके लगवाएं। विभाग का यह अभियान नगर के सभी 15 वार्डों में चलाया गया। डॉ. कुमरावत के मुताबिक हड़ताल समाप्त के बाद आंगनवाड़ी पर जननी सुरक्षा के भुगतान के लिए शिविर लगाया जाएगा।

आंगनवाड़ी में बच्चों को टीका लगाती टीम।

टीकाकरण में यह टीम लगी

बीईई बी.एल. सोनी, सुपरवाइजर एस.एन. यादव, एमपीडब्ल्यू प्रदीप बैरागी, अंबेसिंह सिसौदिया, प्रेमलाल बुनकर, एएनएम सपना शर्मा बड़खेड़ा मांडन, संतोष कौशल बेड़ावन, शकुंतला सितोले आलोटजागीर, चंदा देवी नवादा, सुमन बैरागी रामाबालोदा, विमला पांडे लेकोड़ा आंजना, प्रेमवती रायकवार संदला, करुणा श्रीवास्तव गुराड़िया सांगा, तारा काले बड़ागाव, संतोष पांडे पासलोद, शोभना शेर बेरछा, किरण सिकरवार कनवास, सविता खोड़िया पचलासी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Madhya Pradesh News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: 4 महीने से एएनएम नहीं, नर्स भी हड़ताल पर, स्वास्थ्य विभाग ने ग्रामीण एएनएम से लगवाए बच्चों को टीके
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Ujjain

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×