• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Ujjain
  • Ujjain - बड़नगर रोड पर अखाड़े पौधारोपण के लिए तैयार, मार्ग किनारे अतिक्रमण बना बाधक
--Advertisement--

बड़नगर रोड पर अखाड़े पौधारोपण के लिए तैयार, मार्ग किनारे अतिक्रमण बना बाधक

बड़नगर रोड पर सिंहस्थ लगता है। 2016 में इसके चौड़ीकरण में रोड किनारे के सभी पेड़ काट दिए गए थे। इस मार्ग पर स्थित अखाड़े...

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 05:41 AM IST
बड़नगर रोड पर सिंहस्थ लगता है। 2016 में इसके चौड़ीकरण में रोड किनारे के सभी पेड़ काट दिए गए थे। इस मार्ग पर स्थित अखाड़े चाहते हैं, रोड किनारे पौधारोपण किया जाए तो आगामी सिंहस्थ तक ये पौधे पेड़ बन जाएंगे। जिनका फायदा सिंहस्थ में आने वाले साधु संतों और श्रद्घालुओं को मिलेगा। पौधारोपण में अतिक्रमण बाधा बने हुए हैं। इनके कारण अखाड़ों के साधु संतों को भी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

बड़नगर रोड पर सिंहस्थ में सबसे ज्यादा भीड़ होती है। इसलिए इस मार्ग को सिंहस्थ 2016 के पहले चौड़ा किया था। यहां अखाड़ों के नए भवन भी बनाए गए थे। सिंहस्थ के बाद चौड़े रोड के किनारे पर कई सारी झुग्गी झोपड़ियां बन गई हैं। रात में पूरे मार्ग पर अंधेरा रहता है। अापराधिक तत्व सक्रिय हो जाते हैं। अवैध शराब और अन्य मादक पदार्थों का विक्रय होता है। अतिक्रमणकर्ताओं के कारण सिंहस्थ में डाली सीवर लाइन भी नष्ट हो गई है। जिससे निर्मल अखाड़े का सीवर सिस्टम बंद हो गया है। गंदा पानी चेंबर में भर रहा है। शंकराचार्य चौक से लेकर हनुमान गढ़ी तक अतिक्रमण के कारण साधु-संतों को मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। शराबी आए दिन विवाद करते हैं। निर्मल अखाड़े के मुकामी महंत बेअंतसिंह का कहना है कि निगम यदि रोड किनारे से अतिक्रमण हटाए तो साधु-संत इस मार्ग पर पौधारोपण कर सकते हैं। उनकी देशभाल भी अखाड़े करने को तैयार हैं। इसका फायदा 2028 के सिंहस्थ में मिलेगा। सिंहस्थ क्षेत्र में अतिक्रमण मुहिम चलाई लेकिन इस मार्ग पर ध्यान नहीं दिया गया। जबकि सबसे ज्यादा जरूरत इस मार्ग को विकसित करने की है।

महंत बोले- रात में अपराधियों का डेरा बन जाता है रोड, अखाड़ों को भी परेशानी

निर्मल अखाड़े के बाहर झुग्गियां, इस कारण पौधारोपण नहीं हो रहा।