--Advertisement--

सोशल मीडिया पर पोस्ट के लिए लेखन न करें, यह लेखकों का ध्यान भटकाती है- सुबीर

Ujjain News - आज हमें यह सोचना होगा कि हम लेखन क्यों कर रहे हैं। क्या केवल सोशल मीडिया पर अपनी पोस्ट डालने के लिए लेखन किया जा रहा...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 05:10 AM IST
Ujjain News - do not write for post on social media it distracts the writers39 attention subir
आज हमें यह सोचना होगा कि हम लेखन क्यों कर रहे हैं। क्या केवल सोशल मीडिया पर अपनी पोस्ट डालने के लिए लेखन किया जा रहा है, जबकि लेखक के लिए यह अच्छा होगा कि वह सोशल मीडिया से दूर रहे। एक लेखक के रूप में यह हमारे ध्यान को भटकाते हैं। सोशल मीडिया पर तात्कालिक लाइक आैर कमेंट्स मिलते हैं, जबकि लंबे समय तक वही रहता है, जो गंभीर सोच के साथ हमारा लिखा हुआ है। मुझे यह कहते हुए भी कोई गुरेज नहीं है कि भोपाल की तुलना में बड़े गुणी रचनाकार उज्जैन आैर इंदौर में हैं लेकिन इन्हें वह पहचान नहीं मिल पा रही। अब साहित्य में मालवा के सशक्त हस्तक्षेप की जरूरत है।

कालिदास अकादमी के अभिरंग नाट्यगृह में यह बात भोपाल के उपन्यासकार व कहानीकार पंकज सुबीर ने कही। मप्र संस्कृति परिषद भोपाल के अंतर्गत आने वाले प्रेमचंद सृजन पीठ उज्जैन की ओर से शनिवार सुबह साहित्य विमर्श व व्याख्यान आैर कर्मभूमि सम्मान 2016-17 कार्यक्रम रखा गया। मुख्य अतिथि पंकज सुबीर ने साहित्य विमर्श आैर व्याख्यान कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा उज्जैन-इंदौर के रचनाकार खामोशी के साथ रचनाकर्म कर रहे हैं। तीनों बड़े व्यंग्यकार परसाईजी, शरदजी आैर ज्ञानजी मध्यप्रदेश ने दिए हैं। इसलिए इसे व्यंग्य प्रदेश कहना उचित है। उन्होंने कहा तात्कालिक टिप्पणी आैर व्यंग्य में हमें अंतर करना होगा। आत्म प्रचार आपको कहीं नहीं पहुंचाता। हमारी चिंताएं आैर सरोकार बदल रहे हैं। हमें यह सोचना चाहिए कि हम लेखन के प्रति गंभीर हैं भी या नहीं। लेखक को हर दृष्टिकोण पर गंभीरता से विचार करना चाहिए। अध्यक्षता नटनागर शोध संस्थान सीतामऊ के निदेशक डॉ. मनोहर सिंह राणावत ने की। विशेष अतिथि के रूप में कालिदास अकादमी की प्रभारी निदेशक प्रतिभा दवे एवं संयुक्त आयुक्त प्रतीक सोनवलकर उपस्थित थे। कार्यक्रम में उज्जैन-इंदौर के 8 रचनाकारों को कर्मभूमि सम्मान 2016-17 से सम्मानित किया गया।



X
Ujjain News - do not write for post on social media it distracts the writers39 attention subir
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..