--Advertisement--

डीओसी बिकने के बाद भी सोयाबीन में तेजी नहीं

मप्र की डीओसी के सौदे विदेश में होने के बाद भी सोयाबीन के भाव में तेजी नहीं आई। मंडी में चर्चा गरम भाव की लेकिन रुका...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 06:55 AM IST
मप्र की डीओसी के सौदे विदेश में होने के बाद भी सोयाबीन के भाव में तेजी नहीं आई। मंडी में चर्चा गरम भाव की लेकिन रुका स्टॉक मंडी में तेजी से बिकने लगा, गत दिनों 40 हजार रुपए टन सोया डीओसी और सवा लाख रुपए टन रायड़ा डीओसी के पक्के सौदे हुए। इसकी डिलेवरी कांडला पोर्ट पर 5-7 रैक की शुरू भी हो गई। सोया डीओसी खली के भाव 32500 पोर्ट डिलेवरी के रहे।

रायड़ा के भाव 15 हजार कम के हुए हैं। व्यापार डीओसी का जैसा मिलना चाहिए, नहीं मिल रहा। सोयाबीन बीज व्यापार वालों को चेकिंग का डर सता रहा है। गुरुवार को दिनभर बीज वालों की चेकिंग की खबर का रहा। लेकिन रास्ते पलटकर यह काम हुआ। करोड़ों रुपए का निवेश सोयाबीन बीज में करने वाले बैंकों का लोन बाजार का धन लगाकर ही करोड़ों रुपए का स्ट्रेक्चर खड़ा कर पाए हैं। तमाम कागजी कार्रवाई के बाद जांच का डर तो नकली काम करने वालों को ही लगता है। यह सही कि बीज सप्लाय में उपचारित बीज न होकर मंडी से खरीदा सोयाबीन ग्रेडिंग कर ही बेचा जा रहा है। मंडी में सोयाबीन 4070 रुपए बिका।