• Hindi News
  • Mp
  • Ujjain
  • Ujjain News mp news admission of a single seat in bba was not normal by paying more fees on every seat

बीबीए में एक भी सीट सामान्य नहीं हर सीट पर ज्यादा फीस देकर लेना पड़ा प्रवेश

Ujjain News - एक ओर जहां शिक्षा का लाभ विद्यार्थियों तक पहुंचाने के लिए नए-नए प्रयास किए जा रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ विक्रम...

Jan 20, 2020, 09:35 AM IST
एक ओर जहां शिक्षा का लाभ विद्यार्थियों तक पहुंचाने के लिए नए-नए प्रयास किए जा रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ विक्रम विश्वविद्यालय में विद्यार्थियों को अधिक शुल्क देकर प्रवेश लेने पर मजबूर होना पड़ रहा है। पिछले दस साल से विद्यार्थियों को इसी तरह अधिक शुल्क देकर प्रवेश लेना पड़ रहा है।

मामला विश्वविद्यालय की कॉमर्स अध्ययनशाला का है। यहां वर्ष 2010 में स्व-वित्तीय पाठ्यक्रम के अंतर्गत बीबीए शुरू किया गया था। प्रतिवर्ष बीबीए प्रथम सेमेस्टर में 60 सीटों पर प्रवेश होता है लेकिन विडंबना यह है कि विश्वविद्यालय ने इसकी एक भी सीट जनरल श्रेणी में नहीं रखी। सभी 60 सीटों पर पेमेंट सीट के आधार पर अधिक शुल्क जमा कर ही प्रवेश दिए जाते हैं। छात्राओं के लिए यहां 15331 रुपए आैर छात्रों के लिए 15521 रुपए फीस है। जबकि प्राइवेट कॉलेजों में बीबीए में इससे भी कम शुल्क में प्रवेश मिल जाता है। यही वजह है कि पिछले चार-पांच वर्षों में यहां कभी भी शत-प्रतिशत सीटों पर विद्यार्थियों ने प्रवेश नहीं लिया। इधर विश्वविद्यालय प्रशासन का तर्क है कि शुल्क निर्धारण समिति की अनुशंसा के आधार पर ही अब आगे फीस कम की जा सकेगी।

ज्यादा फीस देने के बाद भी प्लेसमेंट नहीं दिया

पेमेंट सीट पर प्रवेश देने के बाद भी विद्यार्थियों के लिए यहां प्लेसमेंट जैसी कोई सुविधा नहीं है। छात्र नेता तरुण गिरी ने बताया निजी कॉलेजों में विद्यार्थियों को बेहतर जगह जॉब उपलब्ध करवाने के लिए कैंपस ड्राइव रखे जाते हैं लेकिन विभाग में पिछले कई समय से ऐसा कोई कैंपस ड्राइव नहीं हुआ। नए शिक्षा सत्र से अगर बीबीए में जनरल सीटों की तरह प्रवेश नहीं दिया गया तो विश्वविद्यालय में चरणबद्ध आंदोलन किया जाएगा।



X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना