पूर्व सांसद का बंगला खाली नहीं हुआ, अब विधायक को आवास देने के लिए उच्च शिक्षा विभाग से आया पत्र

Ujjain News - विक्रम विश्वविद्यालय के आ‌वासों के आवंटन आैर बंगले खाली कराने का मामला गहराता जा रहा है। विश्वविद्यालय के एक...

Bhaskar News Network

Oct 12, 2019, 09:35 AM IST
Ujjain News - mp news former mp39s bungalow is not vacant now letter from higher education department to give accommodation to mla
विक्रम विश्वविद्यालय के आ‌वासों के आवंटन आैर बंगले खाली कराने का मामला गहराता जा रहा है। विश्वविद्यालय के एक बंगले में पूर्व सांसद रह रहे हैं। वहीं अब एक कांग्रेस विधायक को बंगला आवंटित करने के लिए उच्च शिक्षा विभाग की अनुशंसा आई है।

विश्वविद्यालय के आवासों पर लगातार बन रही विवादित स्थिति के कारण आवास आवंटन समिति की अध्यक्ष डॉ. लता भट्‌टाचार्य इस्तीफा दे चुकी हैं। वहीं समिति के सचिव एवं उपकुलसचिव डॉ. रविशंकर सोनवाल ने भी यह लिखते हुए इस्तीफा दे दिया कि विश्वविद्यालय का अपने आवासों पर कोई नियंत्रण नहीं है। बाहरी लोग विश्वविद्यालय के आवासों पर कब्जा कर लेते हैं आैर विश्वविद्यालय प्रशासन केवल मूकदर्शक बना रहता है। इन सबके बीच अब जिले की तराना विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस विधायक महेश परमार को कोठी रोड स्थित ई-1 आवास आवंटित करने के लिए उच्च शिक्षा का एक पत्र विश्वविद्यालय में आया है। यह वही बंगला है, जिसमें अपर कलेक्टर अवधेश शर्मा रहते थे। इस बंगले के आवंटन के लिए एक अन्य अपर कलेक्टर ने भी आवेदन दिया था लेकिन 30 सितंबर 2019 को शर्मा के बंगला खाली करने के बाद आवंटन पत्र के आधार पर गणित अध्ययनशाला के विभागाध्यक्ष एवं उपाचार्य डॉ. संदीप तिवारी इस बंगले में पहुंच गए।

कोठी पैलेस के समीप विक्रम िववि के ई-4 बंगले में पूर्व सांसद डॉ. मालवीय रहते हैं।

विधायक परमार को विवि के ई-1 आवास को आवंटित करने के लिए उच्च शिक्षा विभाग से पत्र आया है। यह बंगला खाली है।

उपाचार्य डॉ. तिवारी ने चार दिन बाद ही चाबियां लौटाई

चार दिन बाद ही उन्होंने बंगले की चाबियां वापस प्रभारी कुलसचिव को लौटा दी। अब अपर कलेक्टर भी यह पत्र दे चुकी हैं कि वह आवास आवंटन की इच्छुक नहीं हैं। इधर कोठी पैलेस के समीप स्थित ई-4 बंगले में भाजपा के पूर्व सांसद डॉ. चिंतामणि मालवीय रह रहे हैं। यह बंगला भी अब तक खाली नहीं हुआ है।

मुझे अभी पत्र नहीं मिला


आवास के लिए आवेदन किया


इधर... ट्रैफिक डीएसपी को 30 सितंबर तक खाली करना था बंगला, नहीं हुआ

विक्रम कीर्ति मंदिर के सामने विश्वविद्यालय के ई-6 बंगला दिसंबर 2018 में यह बंगला ट्रैफिक डीएसपी सुशील कुमार तिवारी को आवंटित किया था। इसके बाद जुलाई 2019 में आवास आवंटन समिति ने कंप्यूटर साइंस अध्ययनशाला के कमल बुनकर को यह बंगला आवंटित कर दिया। मकान खाली नहीं हुआ तो बुनकर ने सीएम हेल्पलाइन में शिकायत कर दी। पिछले माह 12 सितंबर को शिकायत का निराकरण हुआ। शिकायत की जांच एएसपी से कराई। जिसमें यह लिखा कि तिवारी द्वारा 9 अगस्त 2019 को एक पत्र संभागायुक्त को दिया है। जिसमें उन्होंने लिखा है कि आवास आवंटित करते ही वर्तमान आवास को खाली कर दिया जाएगा। शिकायत के निराकरण के आधार पर 30 सितंबर 2019 तक बंगला खाली करना था लेकिन तिवारी अभी भी इसी बंगले में रह रहे हैं। ट्रैफिक डीएसपी तिवारी से इस बारे में चर्चा की गई तो उन्होंने कहाकि बंगला उन्हें विधिवत विवि के कुलसचिव की ओर से ही आवंटित किया है। मैं किराया भी भुगतान करता हूं। जब मैंने बंगला अभी रिक्त ही नहीं किया है तो किसी अन्य को किया आवंटन अवैध है।

विक्रम कीर्ति मंदिर के सामने ई-6 बंगले में अभी भी डीएसपी यातायात रह रहे हैं। उन्होंने अब तक बंगला खाली नहीं किया है।

Ujjain News - mp news former mp39s bungalow is not vacant now letter from higher education department to give accommodation to mla
Ujjain News - mp news former mp39s bungalow is not vacant now letter from higher education department to give accommodation to mla
X
Ujjain News - mp news former mp39s bungalow is not vacant now letter from higher education department to give accommodation to mla
Ujjain News - mp news former mp39s bungalow is not vacant now letter from higher education department to give accommodation to mla
Ujjain News - mp news former mp39s bungalow is not vacant now letter from higher education department to give accommodation to mla
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना