• Hindi News
  • Mp
  • Ujjain
  • Ujjain News mp news mayor was upset at the swimming pool launch mike did not call for the address mike handled himself said we did not come to clap

स्वीमिंग पूल लोकार्पण में महापौर खफा, उद््बोधन के लिए नहीं बुलाया तो खुद माइक संभाला, बोलीं- हम ताली बजाने नहीं आए

Ujjain News - 11.98 करोड़ रुपए की लागत से बने स्वीमिंग पूल का रविवार दोपहर लोकार्पण हुआ। इसमें महापौर मीना जोनवाल को उद््बोधन के लिए...

Dec 09, 2019, 10:45 AM IST
11.98 करोड़ रुपए की लागत से बने स्वीमिंग पूल का रविवार दोपहर लोकार्पण हुआ। इसमें महापौर मीना जोनवाल को उद््बोधन के लिए नहीं बुलाया तो वे खफा हो गईं। जब संचालनकर्ता ने आभार व्यक्त करने के लिए अपर आयुक्त को आमंत्रित किया तो उनसे पहले महापौर डाइस पर पहुंच गई। माइक संभाला और कहा- यह हक मुझे मिलना चाहिए। फिर उन्होंने प्रभारी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा की बातों का जवाब मंच से दिया। बाद में भास्कर ने कहा- हम यहां ताली बजाने नहीं आए थे, इसलिए बगैर बुलाए उद््बोधन देने जाना पड़ा।

दरअसल 24 नवंबर को पूर्व मुख्यमंत्री कैलाश जोशी के निधन से स्वीमिंग पूल का लोकार्पण स्थगित करना पड़ा था। उज्जैन स्मार्ट सिटी कंपनी लिमिटेड ने इस बार कार्यक्रम कम अवधि का रखा था। मंच पर बीस कुर्सियां लगाई थी लेकिन संबोधन के लिए केवल तीन नाम ही थे। पहला था- केंद्रीय मंत्री थावरचंद गेहलोत, दूसरा- जिले के प्रभारी मंत्री सज्जनसिंह वर्मा और तीसरा आभार के लिए निगम अपर आयुक्त मनोज पाठक। केंद्रीय मंत्री ने कहा- मुझे इंदौर से शाम 4.55 बजे फ्लाइट पकड़ना है। दोपहर 3 बजे निकलना होगा। सात मिनट तक वे मंच पर रहे। इसके बाद प्रभारी मंत्री ने मंच से कहा- हमें स्टेडियम, स्वीमिंग पूल बनाना बंद कर देना चाहिए। बच्चों के लिए जो राशि तय है, वही उन तक पहुंचा दें तो हमारे बच्चों में इतना सामर्थ्य है कि वे पदक ला सकते हैं। इसके बाद आभार के लिए निगम अपर आयुक्त का नाम पुकारा तो महापौर विचलित हो गईं। वे तेजी से डाइस तक पहुंच गई। उन्होंने माइक संभालते हुए कहा- यह हक मुझे मिलना चाहिए। मैं प्रभारी मंत्री काे बताना चाहती हूं स्वीमिंग पूल कैसे बना? विधायक पारस जैन का सपना था कि पुराने शहर में स्वीमिंग पूल बने। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने इसे अपने घोषणा-पत्र में शामिल किया था। मुझे गर्व है कि आज सभी का सपना पूरा हो गया। उन्होंने कहा- परिषद ने पूल का नाम पूर्व प्रधानमंत्री अटलबिहारी वाजपेयी के नाम पर करने की सहमति दी थी।

प्रभारी मंत्री और महापौर के बीच शब्दबाण...

पूल के लोकार्पण के बाद खिलाड़ियों ने केंद्रीय व प्रभारी मंत्री की मौजूदगी में गोता लगाया।

धक्का-मुक्की के बीच लोकार्पण कर प्लेयर्स क्लब में पहुंचे मंत्री, खिलाड़ियों से भी मिले

लोकार्पण के लिए केंद्र सरकार के दो मंत्री केंद्रीय युवा कार्यक्रम एवं खेल विकास किरेन रिजिजू, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गेहलोत, प्रदेश के तीन मंत्री प्रभारी व लोनिवि मंत्री सज्जनसिंह वर्मा, खेल मंत्री जीतू पटवारी, नगरीय विकास एवं आवास मंत्री जयवर्द्धनसिंह, सभी विधायकों अौर सांसद अनिल फिरोजिया को बुलाया था। आमंत्रित करने वाले कलेक्टर शशांक मिश्र और निगम आयुक्त प्रतिभा पाल थे, जो खुद ही कार्यक्रम में मौजूद नहीं थे। केंद्रीय मंत्रियों में सिर्फ गेहलोत आए। प्रदेश के मंत्रियों में खेल मंत्री पटवारी, जयवर्द्धनसिंह नहीं आए। विधायकों में दिलीपसिंह गुर्जर और मुरली मोरवाल नहीं आए। एक घंटे देरी से शुरू हुए कार्यक्रम में सबसे पहले महापौर मौके पर पहुंची। उनके बाद विधायक डॉ. मोहन यादव, पारस जैन आए। धक्का-मुक्की के बीच लोकार्पण कर प्लेयर्स क्लब में प्रवेश किया। यहां पर पूल का अवलोकन करने के साथ तैराक खिलाड़ियों का हौसला बढ़ाया।

वर्मा ने कहा- हमें स्टेडियम, स्वीमिंग पूल बनाना बंद कर देना चाहिए, बच्चों के लिए जो राशि तय है, वही उन तक पहुंचा दें तो हमारे बच्चों में इतना सामर्थ्य है कि वे पदक ला सकते हैं।

महापौर का जवाब- विधायक जैन का सपना था कि पुराने शहर में स्वीमिंग पूल बने, पूर्व मुख्यमंत्री ने घोषणा-पत्र में शामिल किया था, मुझे गर्व है कि सपना पूरा हो गया।

सभी के लिए खुला पूल, पास बनाना भी शुरू

स्वीमिंग पूल लोकार्पण के बाद सभी के लिए खुल गया। पूल के लिए मासिक शुल्क 1000 और साप्ताहिक शुल्क 300 रुपए तय है। किड्स पूल के लिए मासिक शुल्क 700 और साप्ताहिक शुल्क 200 रुपए तय है। पूल को शीतकाल में सुबह 7 से 11 बजे तक और दोपहर 3 से शाम 7 बजे तक खोला जाएगा। ग्रीष्मकाल में इसे सुबह 6 से 10 बजे तक और शाम को 5 से रात 9 बजे तक खोला जाएगा। सोमवार को पूल बंद रहेगा। शी-लॉन्ज की शुरुआत भी हो गई है।

प्रभारी मंत्री की मौजूदगी में उद््बोधन देतीं महापौर मीना जोनवाल।

69 के विधायक जैन ने लगाया गोता

स्वीमिंग पूल लोकार्पण के बाद 69 साल के विधायक पारस जैन पूल पर पहंुचे। उन्होंने जायजा लिया और गोता लगाया। कहा- बीस साल पुराना सपना साकार हो गया। जैन अखाड़े के पहलवान हैं और नियमित व्यायाम भी करते हैं।

कांग्रेस के ग्रामीण अध्यक्ष मंच पर बैठे, शहर अध्यक्ष बुलाने पर भी नहीं गए

मंच को कांग्रेस और भाजपा नेताओं ने साझा किया। हालांकि कांग्रेस नेताओं की संख्या ज्यादा थी। पहली कतार में भाजपा के पांच नेता थे तो कांग्रेस के छह। कांग्रेस के ग्रामीण अध्यक्ष कमल पटेल, पूर्व विधायक राजेंद्र भारती मंचासीन थे। शहर अध्यक्ष महेश सोनी, पूर्व विधायक डॉ.बटुकशंकर जोशी को प्रभारी मंत्री ने मंच पर बुलाया लेकिन वे नहीं आए। वे मंच के सामने कार्यकर्ताओं के साथ कुर्सी पर ही बैठे रहे।

2 लाख का टेंट, 24 हजार का नाश्ता कराया

स्वीमिंग पूल के लोकार्पण पर इस बार यूएससीएल को पिछली बार की तुलना में कम खर्च करना पड़ा। अफसरों के अनुसार 24 नवंबर को नाश्ते के 800 पैकेट बुलवाए थे। ऐसे में 32 हजार रुपए का बिल बना था। इस बार 600 पैकेट बुलवाए थे। ऐसे में खर्च 24 हजार ही रहा। टेंट पर 2 लाख रुपए खर्च हुए।

मंत्री के कहने पर शॉर्ट किया कार्यक्रम


मुझे बात रखने का मौका देना था


हमारा बड़नगर में भी कार्यक्रम था


X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना