खाद्य एवं अाैषधि प्रशासन की समझाइश के बाद भी मंदिर के बाहर धड़ल्ले से बिक रहा पानी मिला दूध

Ujjain News - महाकालेश्वर के अभिषेक में चढ़ने वाले दूध काे लेकर मंदिर प्रबंध समिति गंभीर नजर नहीं अा रही हैं, क्याेंकि खाद्य एवं...

Bhaskar News Network

Oct 12, 2019, 09:31 AM IST
Ujjain News - mp news milk sold indiscriminately outside the temple even after the advice of the food and medical administration
महाकालेश्वर के अभिषेक में चढ़ने वाले दूध काे लेकर मंदिर प्रबंध समिति गंभीर नजर नहीं अा रही हैं, क्याेंकि खाद्य एवं अाैषधि प्रशासन विभाग ने पत्र लिखकर इन्हें समझाइश दी थी कि चढ़ाए जा रहे खुले दूध में न क्रीम न पावडर हैं ज्यादातर पानी ही पानी हैं, इसलिए इसे बंद करवाएं फिर भी ये मंदिर के बाहर की दुकानाें पर धड़ल्ले से बिक रहा है। बावजूद न ताे समिति न न्यास दाेनाें तरफ से इस दिशा में ठाेस पहल नहीं हाे पाई हैं। मंदिर के बाहर प्रबंध समिति अाैर माधव सेवा न्यास द्वारा आवंटित पूजन सामग्री की दुकानें हैं। 31 अगस्त काे खाद्य एवं अाैषधि प्रशासन की टीम ने इनमें से अाठ दुकानाें से दूध के नमूने लिए थे। जिनकी रिपाेर्ट 14-15 सितंबर काे अाई थी। दूध अमानक पाया था।

फूड इंस्पेक्टर बीएस देवलिया के अनुसार शुद्ध दूध में क्रीम यानी घी 4.5 अाैर एसएनएफ यानी पाॅवडर की मात्रा 8.5 फीसदी हाेना चाहिए। बावजूद सभी अाठ नमूनाें की रिपाेर्ट में क्रीम की मात्रा एक फीसदी से भी कम अाई हैं अाैर पाॅवडर 50 फीसदी तक ही हाेना पाया था। दूध में क्रीम व पाॅवडर न के बराबर हाेकर ज्यादातर मात्रा में पानी मिला हाेना पाया था। इस पर उन्हाेंने मंदिर समिति व न्यास काे पत्र लिखकर इसकी जानकारी दी थी। समझाइश दी थी कि उक्त दुकानाें से खुले दूध का विक्रय बंद करवाए। इसके अलावा दुकान आवंटन की शर्ताें में दुकानदाराें द्वारा काराेबार के लिए लाइसेंस लेने की अनिवार्यता भी शामिल करवाए। बावजूद समिति व न्यास दाेनाें की तरफ से इस संबंध में कोई पहल नहीं की। एेसे में शुक्रवार काे देवलिया उक्त संबंध में चर्चा के लिए मंदिर पहुंचे थे लेकिन प्रशासक नहीं मिले। बाद में वे न्यास गए ताे यहां मैनेजर ने उनकी बातें सुनने के बाद भराेसा दिलाया कि वे एक सप्ताह में सभी दुकानदाराें की बैठक बुलाएंगे अाैर उन्हें समझाइश दे देंगे। बैठक की सूचना देवलिया काे भी दी जाएगी, ताकि वे स्वयं नियमाें व प्रक्रिया की जानकारी दुकान संचालकाें काे दे सके।

व्यापारियों की बैठक लेकर बताएंगे नियम- देवलिया

खाद्य एवं अाैषधि प्रशासन विभाग के फूड इंस्पेक्टर बीएस देवलिया ने बताया दूध की रिपाेर्ट से मंदिर समिति व माधव सेवा न्यास काे अवगत करवा दिया था। शुक्रवार काे दाेनाें जगह चर्चा के लिए गए भी थे। मंदिर में प्रशासक नहीं मिले। वे कहीं मीटिंग में गए हुए थे। न्यास के मैनेजर ने भराेसा दिलाया कि एक सप्ताह में सभी दुकानदाराें की बैठक बुलाकर उन्हें मामले में समझाइश दे दी जाएगी। बैठक में फूड सेफ्टी अधिकारी भी जाएंगे और दुकान संचालकों को अधिनियम के बारे में बताया जाएगा। साथ ही खाद्य लाइसंेस बनाने की प्रक्रिया से भी अवगत कराया जाएगा। कैंप भी लगाया जाएगा।

X
Ujjain News - mp news milk sold indiscriminately outside the temple even after the advice of the food and medical administration
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना