विज्ञापन

नर्मदा पाइप लाइन डालने का काम रुका, अब जून तक आएगा पानी

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 05:11 AM IST

Ujjain News - उज्जैनी टू उज्जैन नर्मदा पाइप लाइन का काम रुक गया है। गैस, आॅइल की पाइप लाइन और खेतों में फसल खड़ी होने से पाइप लाइन...

Ujjain News - mp news narmada pipeline halted water to come till june
  • comment
उज्जैनी टू उज्जैन नर्मदा पाइप लाइन का काम रुक गया है। गैस, आॅइल की पाइप लाइन और खेतों में फसल खड़ी होने से पाइप लाइन डालने में बाधा आ रही है। फसल कटने के बाद किसानों के साथ बातचीत कर पाइप लाइन डाली जाएगी। गैस और आॅइल पाइप लाइनों को क्रास करने के लिए भी गैल और भारत पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड के साथ नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण सामंजस्य कर पाइप लाइन डालेगा। अनुमान है कि अब इस पाइप लाइन से नर्मदा का पानी 15 जून तक ही उज्जैन पहुंच पाएगा।

राज्य सरकार ने सिंहस्थ 2016 में शिप्रा में स्नान का साफ पानी उपलब्ध कराने के लिए 432 करोड़ रु. से नर्मदा-शिप्रा लिंक सिंहस्थ योजना शुरू की थी। सिंहस्थ के बाद उज्जैन में पर्व-त्योहारों शिप्रा में पानी छोड़ा जाता रहा है। खुली नदी में आने वाला पानी जहां जमीन में रिसाव होता है, वहीं किसान भी सिंचाई के लिए उपयोग करते हैं। इससे उज्जैन तक पर्याप्त पानी नहीं पहुंचता। इस समस्या को देखते राज्य सरकार ने 139 करोड़ की उज्जैनी टू उज्जैन पाइप लाइन योजना लागू की है। इससे पानी सीधे उज्जैन आएगा।

ग्राम मच्छुखेड़ी में पाइप लाइन का काम अभी रूका हुआ है।

9 जनवरी को पूरी होनी थी योजना, छह महीने पिछड़ी

नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण द्वारा कराए जा रहे इस काम काम की शुरुआत 9 जनवरी 2018 में हुई थी तथा इसे 9 जनवरी 2019 में पूरा हो जाना था लेकिन अवरोधों के चलते योजना पिछड़ गई है। मच्छुखेड़ी में गैस पाइप लाइन और आइल पाइप लाइन के कारण काम रुका है। इसके लिए गैस अथारिटी और बीपीसीएल के साथ सामंजस्य कर काम पूरा किया जाएगा। इधर भंवरी, खोखरिया आदि गांवों में जिन खेतों से पाइप लाइन डाली जाना है, वहां फसल लगी होने से खुदाई नहीं हो पा रही। फसल कटाई में यहां अभी 15 दिन की देरी है। इसी तरह देवास जिले में शिप्रा गांव के पास भी कुछ जगह पाइप लाइन खेतों में डालने का काम होना है। इस पाइप लाइन से 2200 लीटर पानी प्रति सेकंड छोड़ा जा सकेगा।

80 फीसदी काम पूरा होने का दावा

इस योजना के एसडीओ एके मालवीय के अनुसार अब तक 80 फीसदी काम पूरा हो गया है। कुल 66 किमी की पाइप लाइन में से 60 किमी लंबी पाइप लाइन बिछ चुकी है। 138 में से 110 करोड़ रु. का काम हो गया है। योजना 15 जून तक पूरी करने का टारगेट रखा है।

22.60 रु. प्रति हजार लीटर दर से देंगे बिल

एनवीडीए पाइप लाइन से जो पानी शिप्रा मेें पीने के लिए छोड़ेगा, उसका शुल्क लेगा। एनवीडीए ने इसके लिए 22.60 रु. प्रति हजार लीटर पानी की दर तय की है। योजना के अनुसार पानी त्रिवेणी स्टापडेम की डाउन स्ट्रीम में छोड़ा जाएगा।

विक्रम उद्योगपुरी में भी पाइप लाइन नहीं डली

इसी पाइप लाइन से उज्जैन की विक्रम उद्योगपुरी को भी पानी देना है। वहां भी पाइप लाइन का काम नहीं हुआ है। उद्योगपुरी को पानी देने के लिए पंपिंग हाऊस की जमीन निर्माण एजेंसी तलाश रही है। पंप हाउस की जमीन तय होते ही संभावित 400 मीटर लंबी पाइप लाइन बिछा दी जाएगी।

X
Ujjain News - mp news narmada pipeline halted water to come till june
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन