शहर में एक भी कोचिंग मापदंडों पर खरे नहीं, सभी 115 को नोटिस, सात दिन में सुधार नहीं तो सील होंगे

Ujjain News - शहर के काेचिंग संस्थाओं में अाग से बचाव की पूरी सुरक्षा और अन्य उपायाें की पूर्ति संचालकों को सात दिन में करना...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 09:35 AM IST
Ujjain News - mp news not only on one coaching criteria in the city notice to all 115 improvement in seven days or seals will be
शहर के काेचिंग संस्थाओं में अाग से बचाव की पूरी सुरक्षा और अन्य उपायाें की पूर्ति संचालकों को सात दिन में करना हाेगी। एेसा नहीं करने वाले सेंटर सील किए जाएंगे। गुरुवार काे कलेक्टर शशांक मिश्र ने इन्हें सख्त निर्देश दिए। नगर निगम ने नाेटिस व चेतावनी पत्र जारी कर दिए हैं। शुक्रवार से शहर की 115 कोचिंग क्लासेस तब तक बंद रहेगी, जब तक सुधार नहीं कर लेते।

सूरत में काेचिंग सेंटर में अागजनी के बाद से सुरक्षा उपायाें काे लेकर गुरुवार शाम पुलिस-प्रशासन ने उज्जैन काेचिंग एसाेसिएशन के पदाधिकारियाें की बैठक बुलाई थी। बैठक के लिए शाम काे पुलिस कंट्राेल रूम पर 100 संचालक पहुंचे। कलेक्टर मिश्र, एसपी सचिन अतुलकर व निगमायुक्त प्रतिभा पाल ने छह पदाधिकारियाें काे चर्चा के लिए बुलवाया। संरक्षक जीएल परमार, अध्यक्ष याेगेंद्र पाेरवाल, कीर्ति सक्सेना, मुकेश साेनी, कल्याण शिवहरे व पंकज चांदाेलकर चर्चा के लिए कक्ष में पहुंचे। कमरे में विधायक डाॅ.माेहन यादव भी माैजूद थे। कीर्ति सक्सेना एक दिन पहले उनके यहां की गई कार्रवाई काे लेकर निगम के सहायक अायुक्त सुबाेध जैन की गलतियां बताने लगीं। निगमायुक्त बाेलीं- शासन के नियमों का पालन करवा रहे हैं, बगैर उसके हम संचालन नहीं हाेने देंगे

बंद कमरे में उज्जैन काेचिंग एसाेसिएशन के साथ चर्चा करते कलेक्टर, एसपी व निगमायुक्त।

कलेक्टर ने सुधार के लिए दिए तीन दिन

कीर्ति सक्सेना व एसाेसिएशन के अन्य पदाधिकारी कुछ अाैर बाेलते उसके पहले ही कलेक्टर ने कहा- देखिए, अाप सभी के यहां की रिपाेर्ट हमारे पास है। बच्चाें के साथ कहीं कोई घटना-दुर्घटना हाे जाएगी ताे काैन जिम्मेदार हाेगा? इसलिए जब तक अाप अाग से बचाव के नियम फाॅलाे नहीं कर लेते, हम काेचिंग संचालन की परमिशन नहीं देंगे। कलेक्टर ने सुधार के लिए तीन दिन का वक्त दिया है। तब एसाेसिएशन के पदाधिकारियाें ने भराेसा दिलाया वे सुधार ताे कर लेंगे लेकिन उन्हें अाैर थाेड़ा वक्त चाहिए। बैठक के बाद निगमायुक्त ने सभी 115 सेंटर संचालकाें काे अपर अायुक्त मनाेज पाठक से नाेटिस जारी करवा दिए। नोटिस में इन्हें सात दिन में अपने यहां अाग से बचाव के उपाय जुटाने के लिए लिखा। साथ ही चेतावनी दी कि एेसा नहीं करने वाले सेंटर सात दिन बाद सील कर दिए जाएंगे।

ये सुधार करना है काेचिंग सेंटर संचालकाें काे


कलेक्टर काे साैंपी रिपाेर्ट का यह मजमून

नगर निगम के फायर बिग्रेड के विशेषज्ञाें व अन्य अमले ने 26 मई से 5 जून तक शहर के सभी 115 काेचिंग सेंटराें में जाकर सुरक्षा इंतजामाें के अलावा अन्य बिंदुअाें की पड़ताल की थी। इसके बाद 20 पेज की जांच रिपाेर्ट कलेक्टर काे साैंपी, मजमून यह कि शहर में एक भी सेंटर सुरक्षा व सुविधाअाें के मापदंडों का पालन नहीं कर रहा है। इसे गंभीरता से लेते हुए प्रशासन काे ये सख्ती बरतना पड़ रही है।

ये लिखा रिपाेर्ट में :
फालो नहीं किया तो कार्रवाई के दायरे में आएंगे



- प्रतिभा पाल, निगमायुक्त


- जीएल परमार, संरक्षक, उज्जैन काेचिंग एसाेसिएशन

X
Ujjain News - mp news not only on one coaching criteria in the city notice to all 115 improvement in seven days or seals will be
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना