विज्ञापन

सफाईकर्मी बोले- पांच तारीख तक दे वेतन, काम बंद किया

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 05:11 AM IST

Ujjain News - रेलवे स्टेशन के सफाईकर्मियों ने शनिवार को काम बंद दिया। वे महीने की पांच तारीख तक वेतन मिलने की मांग पर अड़े थे।...

Ujjain News - mp news souvenir said pay up to five dates stopped work
  • comment
रेलवे स्टेशन के सफाईकर्मियों ने शनिवार को काम बंद दिया। वे महीने की पांच तारीख तक वेतन मिलने की मांग पर अड़े थे। जिससे प्लेटफॉर्म और परिसर के बाहर आधे घंटे तक सफाई नहीं हो पाई। जानकारी मिलने पर रेलवे के अधिकारी उनके चर्चा के लिए पहुंचे लेकिन वे नहीं माने। उन्होंने कहा- कंपनी ने हमें 5 तारीख तक वेतन देने की शर्त पर रखा था लेकिन 15 तारीख तक वेतन नहीं मिला। ऐसे में गुजर-बसर मुश्किल हो रहा है। अधिकारियों ने संबंधित कंपनी को पूरे मामले से अवगत कराया। उन्हें चेताया कि सफाई व्यवस्था प्रभावित हुई तो सफाईकर्मियों से ज्यादा जिम्मेदार कंपनी होगी। कंपनी के अधिकारियों ने सफाईकर्मियों से चर्चा कर पांच तारीख को ही वेतन देने की भरोसा दिलाया। जिसके बाद वे काम पर लौट आए।

सफाई का ठेका खत्म, दूसरी फर्म संभालेगी काम

रेलवे स्टेशन पर सफाई का दायित्व रेलवे ने एक निजी कंपनी को दिया था। जिसकी अवधि मार्च में खत्म हो जाएगी। अब दूसरी फर्म यह दायित्व संभालेगी। ऐसे में सफाईकर्मियों को यह डर सता रहा है कि नई कंपनी उन्हें काम पर रखेगी या नहीं। यही कारण है कि उन्होंने शनिवार को 30 मिनट तक काम नहीं किया। अधिकारियों का कहना है कि यह फर्म पर निर्भर करता है, वे किसे रखें, किसे नहीं। हमें ताे सफाई से मतलब है। स्टेशन की सफाई व्यवस्था प्रभावित हुई तो कंपनी पर जुर्माना लगाया जा सकता है।

इधर पहली बार बीएसएनएल कर्मचारियों को आधा महीना गुजरने के बाद मिला वेतन

उज्जैन | बीएसएनएल अधिकारी-कर्मचारियों को पहली बार वेतन के लिए इस महीने परेशान होना पड़ा है। लगभग आधा माह गुजरने के बाद शुक्रवार की देर शाम कर्मचारियों के खातों में फरवरी माह का वेतन आया।

केंद्र सरकार द्वारा फंड अनुपलब्धता बताते हुए फरवरी 2019 के वेतन का भुगतान नहीं किया गया था। जिसके कारण कर्मचारियों को आर्थिक रूप से परेशान होना पड़ा। सबसे ज्यादा परेशानी उन लोगों को आई है, जिनकी होम लोन सहित अन्य ऋणों की किस्त जमा नहीं हो सकी आैर अब उन्हें पैनल्टी अलग से भुगतना पड़ेगी। उज्जैन में देवासगेट, भरतपुरी, दशहरा मैदान के अलावा नागदा, खाचरौद, महिदपुर, बड़नगर आैर तराना के केंद्रों पर कुल 293 अधिकारी-कर्मचारी कार्यरत हैं। जिन्हें हर माह लगभग 2.5 करोड़ रुपए वेतन का भुगतान होता है। 2000 में बीएसएनएल की शुरुआत के बाद यह पहला मौका है जब कर्मचारियों का वेतन रोका गया है। आमतौर पर माह की पहली तारीख को ही वेतन आ जाता है। शुक्रवार देर शाम वेतन का भुगतान हो सका। ऑल यूनियन एंड एसोसिएशन ऑफ बीएसएनएल उज्जैन के संयोजक मनोज शर्मा ने बताया सरकार की बीएसएनएल विरोधी नीतियों को लेकर अब सभी यूनियन आैर एसोसिएशन 5 अप्रैल को नईदिल्ली में संचार भवन का घेराव करेंगी।

X
Ujjain News - mp news souvenir said pay up to five dates stopped work
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन