• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Ujjain
  • Ujjain News mp news the chief secretary had a decrease in the arrangement of the shastri shastra whoever found guilty in the investigation would take action

मुख्य सचिव ने माना शनिश्चरी स्नान की व्यवस्था में कमी थी, जांच में जो भी दोषी मिलेंगे, कार्रवाई करेंगे

Bhaskar News Network

Jan 14, 2019, 05:01 AM IST

Ujjain News - मप्र के मुख्य सचिव सुधि रंजन मोहंती ने माना कि शनिश्चरी अमावस्या (5 जनवरी) पर व्यवस्थाओं में कमी थी। इस मामले में...

Ujjain News - mp news the chief secretary had a decrease in the arrangement of the shastri shastra whoever found guilty in the investigation would take action
मप्र के मुख्य सचिव सुधि रंजन मोहंती ने माना कि शनिश्चरी अमावस्या (5 जनवरी) पर व्यवस्थाओं में कमी थी। इस मामले में कार्रवाई हो चुकी है। अभी रिपोर्ट ले रहे हैं। यदि कोई दोषी पाया जाता है तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई होगी। उन्होंने भरोसा दिलाया कि मकर संक्रांति पर शिप्रा के सभी घाटों पर साफ पानी सहित अन्य व्यवस्थाएं की जा रही है। इसके बाद आने वाली सोमवती अमावस्या सहित अन्य स्नान पर्वों पर भी नर्मदा का पानी मिलेगा। मकर संक्रांति पर्व के स्नान के लिए रविवार को मोहंती ने त्रिवेणी और रामघाट पर की जा रही व्यवस्थाओं का अवलोकन किया। उन्होंने मौके पर ही अधिकारियों से जानकारी ली। इसके बाद बृहस्पति भवन में तैयारियों की समीक्षा की। प्रजेंटेशन के माध्यम से मोहंती को प्रशासन ने स्नान व्यवस्थाओं की जानकारी दी। बैठक के बाद मीडिया से चर्चा करते हुए उन्होंने बताया शनिश्चरी अमावस्या पर हुई अव्यवस्थाओं का फायदा यह हुआ कि हमें अपनी व्यवस्थाओं को फिर से समझने और दुरुस्त करने का मौका मिला। शेष|पेज 9 पर





मुख्य सचिव ने माना शनिश्चरी



स्नान पर्व पर केवल नदी में पानी की उपलब्धता ही मुद्दा नहीं है, आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधा और सुरक्षा के इंतजाम भी जरूरी है। उन्होंने बताया मकर संक्रांति पर सुरक्षा के लिए 900 पुलिसकर्मी तैनात किए जाएंगे। मुख्य सचिव के साथ एनवीडीए के अपर मुख्य सचिव रजनीश वैश्य, श्रम विभाग के प्रमुख सचिव संजय दुबे, पीएचई के प्रमुख सचिव विवेक अग्रवाल, नगरीय निकाय के प्रमुख सचिव प्रमोद अग्रवाल, जल संसाधन के अपर मुख्य सचिव आरएस जुलानिया मौजूद थे।

X
Ujjain News - mp news the chief secretary had a decrease in the arrangement of the shastri shastra whoever found guilty in the investigation would take action
COMMENT