गुंडे रौनक की 8 गुमटियां तोड़ी, किराए से हर महीने 40 हजार कमाता था

Ujjain News - बदमाशों के कब्जों से मकानों को मुक्त कराने के बाद पुलिस ने उनकी आय का स्त्रोत अवैध गुमटियांें को ध्वस्त करवा दिया।...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 09:35 AM IST
Ujjain News - mp news the hooligans broke 8 knobs of raunaq earning 40 thousand rupees per month
बदमाशों के कब्जों से मकानों को मुक्त कराने के बाद पुलिस ने उनकी आय का स्त्रोत अवैध गुमटियांें को ध्वस्त करवा दिया। अकेले हिस्ट्रीशीटर रौनक गुर्जर ही 8 गुमटियों से 40 हजार रुपए महीना कमा रहा था तो अन्य बदमाशों की भी इसी तरह अवैध कब्जे व गुमटियां होगी। एसपी सचिन अतुलकर ने थाना प्रभारियों से कहा कि क्षेत्र में यह पता लगाएं कि बदमाशों ने इस तरह के अवैध कब्जे तो नहीं किए हुए हैं।

जीरो पाइंट ब्रिज से ढांचा भवन मार्ग पर संचालित हो रही गुमटियां बदमाशों ने रखवाई थी और इसके बदले में प्रत्येक गुमटी का पांच हजार रुपए महीना ले रहे थे। पुलिस ने शुक्रवार शाम को निगम अमले को बुलवाकर जेसीबी से दुकानों को मौके पर ही ध्वस्त करवा दिया ताकि दोबारा अवैध गुमटी नहीं रख सके। एसपी ने प्रशासनिक अधिकारी और निगम कमिश्नर से आगामी कार्रवाई के लिए चर्चा की है। निगम से भी यह जानकारी पता करने को कहा कि किस क्षेत्र में अवैध गुमटियां बदमाशों की रखवाई है। एसपी ने थाना प्रभारियों से कहा गुंडों की अवैध आय के स्त्रोत खत्म करना होंगे ताकि उनके खिलाफ जब कार्रवाई की जाए तो उनकी यह स्थिति हो कि जमानत भी करवाने के लायक न रहे।

बदमाशों के आय के स्त्रोत पता लगाओ, वहीं से कार्रवाई की शुरुआत, टीआई पता लगाएंगे उनके क्षेत्र में मकानों पर कब्जे व अवैध गुमटियां कौन बदमाश संचालित करवा रहा

जीरो पाइंट ब्रिज के समीप लगी गुमटियांें को निगम गैंग ने जेसीबी से तुड़वा दिया।

गुमटी वाले बोले- पांच हजार रुपए महीना दे रहे थे

जीरो पाइंट ब्रिज मार्ग पर माता मंदिर के समीप लगी अवैध गुमटियों में भोजनालय, रेस्टाेरेंट, गैरेज समेत अन्य दुकानें खुल गई थीं। यहां निगम अमले के साथ सीएसपी करण सिंह रावत कार्रवाई करने पहुंचे तो दुकान वालों ने कहा कि रौनक और उसके भाई को गुमटी का पांच हजार रुपए महीना देते हंै, फिर क्यों हटा रहे हो। इस दौरान विरोध भी किया। सीएसपी ने कहा कि पांच हजार रुपए गुंडों को देने के लिए किसने कहा था। यह सुन दुकान वाले चुप हो गए।

इन क्षेत्रों में बदमाशों की गुमटियांे का पता चला





रौनक को इंदौर से लेकर आई पुलिस

पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार ढांचाभवन निवासी बदमाश रौनक गुर्जर की शनिवार शाम को इंदौर एमवाय अस्पताल से छुट्टी हो गई। उसके डिस्चार्ज होने का पता चलते ही चिमनगंज मंडी पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। रात को पुलिस उसे गिरफ्तार कर उज्जैन ले आई।

बदमाश रौनक के भी पैर में गोली फंसी हुई है और रविवार को पुलिस उसे कोर्ट में पेश कर रिमांड मांगेगी। ढांचा भवन में जहां उसने गोली चलाई थी वहां भी पुलिस आरोपी को स्पाट वेरीफिकेशन के लिए लेकर जाएगी। रिमांड के बाद रासुका में कार्रवाई कर उसे रीवा जेल भिजवाया जाएगा। चिमनगंज मंडी टीआई मनीष मिश्रा ने बताया कि बदमाश रौनक के पिता मनोहर भी फरार है उसने कोर्ट में अग्रिम जमानत की अर्जी लगाई है। जिसे लेकर कोर्ट में आपत्ति लगाई गई है।

X
Ujjain News - mp news the hooligans broke 8 knobs of raunaq earning 40 thousand rupees per month
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना