• Hindi News
  • Mp
  • Ujjain
  • Ujjain News mp news this plan for clean water always in shipra a paved stop dam will be built in kanh river on triveni will extend the narmada pipeline to gaughat

शिप्रा में हमेशा साफ पानी के लिए ये प्लान...त्रिवेणी पर कान्ह नदी में पक्का स्टॉप डेम बनेगा, नर्मदा की पाइप लाइन गऊघाट तक बढ़ाएंगे

Ujjain News - इंदाैर-देवास जिले से समन्वय बनाने के बाद प्रशासन श्रद्धालुअाें काे मकर संक्रांति का स्नान शिप्रा में साफ पानी...

Jan 16, 2020, 09:46 AM IST
Ujjain News - mp news this plan for clean water always in shipra a paved stop dam will be built in kanh river on triveni will extend the narmada pipeline to gaughat
इंदाैर-देवास जिले से समन्वय बनाने के बाद प्रशासन श्रद्धालुअाें काे मकर संक्रांति का स्नान शिप्रा में साफ पानी में करवाने में सफल रहा। पिछले तीन दिन से अधिकारी इस स्नान की तैयारियाें काे लेकर ज्यादा चिंता में थे। शासन द्वारा लगातार अपडेट लिया जा रहा था।

बुधवार काे जब ये खबर भाेपाल पहुंची कि बेहतर व्यवस्थाअाें के बीच श्रद्धालु शिप्रा में स्नान कर पा रहे हैं ताे सभी ने राहत की सांस ली। साथ ही ये सवाल भी खड़ा हाेने लगा कि अब अगले स्नानाें के लिए क्या व्यवस्था रहेगी? इस सवाल के जवाब में प्रशासन ने नया एक्शन प्लान तैयार कर लिया है। प्रभारी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा के साथ बैठक के बाद जल्द ही इस पर काम शुरू हाेने की संभावना है। प्रशासन का एक्शन प्लान दाे बिंदुअाें पर अाधारित हैं। पहला ये कि कान्ह का गंदा पानी शिप्रा में मिलने से राेके रखना अाैर दूसरा शिप्रा के प्रमुख घाटाें पर स्नान के लिए हमेशा साफ पानी की उपलब्धता बनाए रखना। खास बात ये भी इस प्लान के बीच में प्रशासन ने पिपल्याराघाै से त्रिवेणी तक के किसानाें की सिंचाई के बारे में भी साेच रखा है।

प्रशासन के दो कदम..जिससे शिप्रा में साफ पानी रहने की उम्मीद

1. कान्ह के पानी काे शिप्रा में मिलने से राेकना

अभी यह स्थिति -
इंदाैर से कान्ह के रास्ते सीवरेज का पानी अा रहा हैं। दावा है कि ये ट्रीटमेंट करके छाेड़ा जा रहा है। फिलहाल इस पानी काे उज्जैन में पिपल्याराघाै स्टाप डेम बंद करके अाैर यहां से कान्ह पाइप लाइन में छाेड़कर इसे डायवर्ट कर रखा है, ताकि ये त्रिवेणी पर शिप्रा में नहीं मिल सके। एहतियातन त्रिवेणी पर कान्ह अाैर शिप्रा के बीच में मिट्टी का कच्चा बांध भी बनाया हुअा है।

यह है प्लान - अभी व्यवस्था यथावत रहेगी लेकिन त्रिवेणी पर कान्ह अाैर शिप्रा के बीच में कच्चे की बजाय पक्का स्टाप डेम बनाया जाएगा। डेम में प्लेट्स रहेंगी ताकि जरूरत अनुसार इसे खाेला व बंद किया जा सके।

फायदा - पक्का स्टाप डेम बनने से कान्ह का गंदा पानी शिप्रा में मिलने का खतरा कम हाे जाएगा। स्नान पर्वाें पर इसका फायदा मिलेगा। प्रशासन पिपल्याराघाै से इस स्टाप डेम तक सिंचाई के लिए कान्ह का पानी मुहैया करवा सकेगा।

2. घाटाें पर स्नान के लिए हमेशा साफ पानी

अभी यह स्थिति -
जरूरत पड़ने पर नर्मदा का पानी शिप्रा तक लाने की दाे व्यवस्था हैं। पहली देवास बैराज से नदी के माध्यम अाैर दूसरी उज्जैनी से त्रिवेणी तक पाइप लाइन के जरिए। मकर संक्रांति स्नान के दौरान इन दाेनाें स्त्राेताें से 160 एमसीएफटी पानी लाया गया है।

यह है प्लान - उज्जैनी से त्रिवेणी तक बिछी पाइप लाइन काे अागे बढ़ाकर शिप्रा के गऊघाट तक कर दिया जाएगा।

फायदा - चूंकि पानी पाइप लाइन से सीधे गऊघाट पर पहुंचेगा एेसे में न ताे इसके प्रदूषित हाेने का खतरा रहेगा न ही पानी की बर्बादी की िचंता रहेगी। गऊघाट से ये पानी कम समय में अन्य घाटाें से अागे बढ़ता हुअा रामघाट तक पहुंच जाएगा, स्नान के लिए ये ही घाट प्रमुख हैं। श्रद्धालुओं को स्नान के लिए भी पर्याप्त पानी मिल सकेगा। एेसे में देवास बैराज से नदी के रास्ते पानी मंगवाने से हाेने वाली पानी की बर्बादी से निजात मिलेगी।

माैनी अमावस्या स्नान के लिए नया पानी नहीं आएगा

अब 24 जनवरी काे माैनी अमावस्या अाैर 21 फरवरी काे शिवरात्रि का स्नान है। प्रशासन की मंशा है माैनी अमावस्या का स्नान इसी पानी में करवा जाए। शिवरात्रि स्नान के लिए इसे बदला जाए। हालांकि ठाेस व अंतिम निर्णय स्नान के तीन दिन पहले अधिकारियाें द्वारा घाटाें का निरीक्षण करके लिए जाएगा।

क्रियान्वयन के लिए बैठक


X
Ujjain News - mp news this plan for clean water always in shipra a paved stop dam will be built in kanh river on triveni will extend the narmada pipeline to gaughat
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना