• Hindi News
  • Mp
  • Ujjain
  • Ujjain News mp news took nephew of three years on the pretext of showing garba police brought 10 days later

गरबा दिखाने के बहाने तीन साल के भतीजे को ले गया, 10 दिन बाद पुलिस लेकर आई

Ujjain News - मायके में रह रही भाभी को सबक सिखाने के लिए मिलने आया देवर तीन साल के भतीजे को गरबा दिखाने के बहाने ले गया और फिर वापस...

Oct 12, 2019, 09:31 AM IST
मायके में रह रही भाभी को सबक सिखाने के लिए मिलने आया देवर तीन साल के भतीजे को गरबा दिखाने के बहाने ले गया और फिर वापस नहीं लौटा। उसने मोबाइल भी बंद कर लिया। बेटे को लेकर महिला परेशान हो गई और परिजनों के साथ उसे खोजते हुए कायथा स्थित ससुराल भी गई लेकिन मायूस लौटना पड़ा। दस दिन से ससुराल वाले फोन पर उसे यह कह रहे थे कि बच्चा मिल जाएगा लेकिन उसे लौटा नहीं रहे थे। पुलिस को जब घटना की जानकारी लगी तो 24 घंटे के भीतर बच्चा मां को मिल गया।

देवासरोड गणेशनगर निवासी टीना राठौर 23 साल का पति राहुल निवासी कामलीखेड़ा कायथा से विवाद चल रहा है जिसके चलते महिला तीन साल से बेटे के साथ मायके में ही रह रही है। उसका देवर राजदीप सिंह नागझिरी क्षेत्र में ही रहता है और दस दिन पहले भाभी टीना से मिलने गया था। तीन साल के भतीजे दिव्यांश को वह यह कहते हुए ले गया था कि थोड़ी देर मेें गरबा दिखाकर ले आऊंगा। भाभी ने भरोसा कर देवर को बच्चे को सौप दिया लेकिन वह वापस नहीं लौटा। नागझिरी टीआई राममूर्ति शाक्य ने बताया कि गुरुवार शाम को महिला ने थाने आकर घटना की जानकारी दी जिसके बाद उसके देवर के खिलाफ अपहरण का केस दर्ज किया। कामलीखेड़ा स्थित उसके घर पर दबिश दी। वहां नहीं मिला तो परिजनों को पूछताछ के लिए थाने लेकर आए। जिसके बाद शनिवार शाम को आरोपी देवर को गिरफ्तार कर बच्चे को मां के सुपुर्द किया।

बच्चे को मां की गोद में सौपती नागझिरी थाने की एसआई चांदनी गौड़।

झूठ बोलकर बच्चे को मां से जुदा किया, फोन भी बंद

टीआई शाक्य ने बताया कि पति प|ी के बीच तीन साल से विवाद है। महिला ने दहेज प्रताड़ना और घरेलू हिंसा का केस लगाया हुआ है। उसके छोटे से बच्चे को देवर जिस तरह से झूठ बोलकर ले गया यह अपराध है। महिला का रो-रोकर बुरा हाल था। बच्चे को मां के सुपुर्द करने के साथ ही आरोपी को भी गिरफ्त में ले लिया है। एसआई चांदनी गौड़ को घटना की जांच सौपी गई है। आरोपी ने पूछताछ में स्वीकारा है कि भाभी मायके में रह रही है जिसे सबक सिखाने के लिए यह किया।

क्राइम मीटिंग में एसपी बोले बदमाशों की घेराबंदी करो

उज्जैन |
पुलिस कंट्रोल रुम पर शुक्रवार को छह घंटे क्राइम मीटिंग चली। एसपी सचिन अतुलकर ने सभी थाना प्रभारियों से कहा कि जेल से छूटने के बाद जो आदतन बदमाश दोबारा सक्रिय हो रहे हैं अथवा वारदात कर रहे हैं उनके खिलाफ घेराबंदी की जाए। त्योहारों के बाद शिफ्ट सिस्टम भी फिर से शुरू किया जाएगा। एसपी ने कहा कि इससे थाने पर निर्धारित शिफ्ट में पर्याप्त बल रहने से फील्ड में उनकी मौजूदगी भी दिखेगी।

थानवार अपराधों की समीक्षा करते हुए एसपी ने इस बात पर जोर दिया कि बदमाशों के खिलाफ अधिक सख्ती बरतना होगी। नए अपराधियों का भी रिकार्ड बनाने के निर्देश दिए। थाना प्रभारियों को कहा गया कि आदतन बदमाश जो अपराध करने से बाज नहीं आ रहे है उनकी सूची पुलिस अधीक्षक कार्यालय भिजवाई जाए ताकि उनके खिलाफ जिलाबदर व रासुका की कार्रवाई की जा सके। एसपी ने कहा कि बदमाशों के खिलाफ कार्रवाई करने में लापरवाही की जाती है तो थाना प्रभारी पर गाज गिरेगी। गाड़ियों में तोड़फोड़ करने वाले नई उम्र के युवकों के खिलाफ भी सख्त धारा में कार्रवाई करने के निर्देश दिए। सबक सिखाने के लिए उनका जुलूस भी निकाला जाए। एसपी से कहा कि लगातार त्योहारों की ड्यूटी के चलते पेडिंग अपराधों का निकाल नहीं हो पाया है, उन पर भी तत्परता से चालान पेश किए जाए।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना