• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Ujjain
  • Ujjain - छात्रों ने सिंधिया से कहा- माधव कॉलेज के स्थानांतरण से विरासत नष्ट हो जाएगी
--Advertisement--

छात्रों ने सिंधिया से कहा- माधव कॉलेज के स्थानांतरण से विरासत नष्ट हो जाएगी

माधव कॉलेज को नवनिर्मित कालिदास कॉलेज में स्थानांतरित करने का मामला गरमा गया है। माधव कॉलेज बचाओ संघर्ष समिति की...

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 05:40 AM IST
माधव कॉलेज को नवनिर्मित कालिदास कॉलेज में स्थानांतरित करने का मामला गरमा गया है। माधव कॉलेज बचाओ संघर्ष समिति की अगुवाई में छात्र-छात्राओं ने मंगलवार को सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया से मुलाकात कर इसके स्थानांतरण रोकने की गुहार लगाई है। उन्होंने दोपहर 1.30 बजे सिंधिया से नागदा के रेस्ट हाउस में मुलाकात की। उनका कहना है कि वे इस संबंध में कलेक्टर से चर्चा करेंगे। छात्र-छात्राओं नेे सिंधिया से चर्चा में कहा-128 साल पहले सिंधिया राजघराने ने उच्च शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए यह भवन दिया था। भाजपा के दाेनों विधायक उज्जैन उत्तर-दक्षिण विद्यार्थी परिषद के कहने पर माधव कॉलेज को राम जनार्दन मंदिर स्थित कालिदास कन्या कॉलेज के नवनिर्मित भवन में स्थानांतरित करने का षडयंत्र रचा जा रहा है।

माधव कॉलेज में छात्र-छात्राओं की संख्या 4500 है। कॉलेज में 1062 छात्राएं, एलएलबी में 194 छात्राएं, पीएचडी और एमफिल में 90 छात्राएं हैं। कॉलेज में 75 फीसदी अजा/अजजा और अन्य पिछड़ा वर्ग के साथ अल्पसंख्यक छात्र हैं जबकि कािलदास कन्या कॉलेज में 1300 छात्राएं हैं। माधव कॉलेज के पास रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और जिला अस्पताल है। उन्होंने आरोप लगाया कि सिंधिया घराने की पुरानी विरासतों को भाजपा और आरएसएस नष्ट करने का षडयंत्र रच रहे हैं। जिला अस्पताल श्रीमंत माधवराव सिंधिया की स्मृति में है, उनके नाम को भी स्टेशनरी से हटाया जा रहा है। राजमाता विजयाराजे सिंधिया के नाम से प्रसूतिगृह को भी समाप्त कर दिया है। महाराजवाड़ा भवन जिसमें शासकीय कन्या उमावि सराफा संचालित हो रहा है, उसे महाकालेश्वर मंदिर समिति को हस्तांतरित कर दिया है। संजय कुमारिया, वीरभद्र शर्मा, यश जैन, अभिषेक परमार, जुनैद शेख, माधुरी खरे ने सिंधिया को बताया कि 2004 में विधायक पारस जैन और यूडीए अध्यक्ष डॉ. मोहन यादव नेे माधव कॉलेज को खत्म कर शॉपिंग कॉम्प्लेक्स बनाने की योजना बनाई थी। जिसे कांग्रेस समर्थित छात्र संगठनों ने आंदोलन कर निरस्त कराया था। उन्होंने कलेक्टर मनीष सिंह से चर्चा कर छात्र-छात्राओं के भविष्य को देखते हुए माधव कॉलेज का स्थानांतरण नहीं करने का आग्रह किया है।

सांसद सिंधिया से चर्चा करते माधव कॉलेज बचाओ संघर्ष समिति के सदस्य।