--Advertisement--

होलिका दहन के लिए शुभ मुहूर्त शाम 6.47 के बाद

विदिशा| फाल्गुन की मस्ती का पर्व होली की शुरूआत रविवार से होगी। पांच दिनी इस बसंत पर्व में होलिका दहन कर जहां एक आेर...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 05:40 AM IST
विदिशा| फाल्गुन की मस्ती का पर्व होली की शुरूआत रविवार से होगी। पांच दिनी इस बसंत पर्व में होलिका दहन कर जहां एक आेर भगवान विष्णु की उपासना होगी, वहीं ग्रहों की विपरीत दशा के साथ ही रोग, दरिद्रता का दहन कर सुख-समृद्धि और खुशहाली की कामना की जाएगी। मान्यता है कि होलिका दहन करने से कष्ट दूर होते हैं। पंडित राजदीप शर्मा ने बताया कि होलिका दहन भद्रा के बाद होगा। इस बार शाम 6.47 तक भद्रा रहेगी। इसलिए हाेलिका दहन शाम 6.47 के बाद ही होगा।

पंडित विनोद शास्त्री बताया कि इस दिन ग्रहों की कुदृष्टि से होने वाली परेशानियों के साथ ही रोग, शोक, दरिद्रता का उतारा कर होलिका में दहन किया जाता है।