Hindi News »Madhya Pradesh »Vidisha» हड़ताली कर्मचारियों के प्रति सरकार का रवैया संवेदनहीन: विधायक जैन

हड़ताली कर्मचारियों के प्रति सरकार का रवैया संवेदनहीन: विधायक जैन

हड़ताली कर्मचारियों के प्रति प्रदेश सरकार का रवैया संवेदनहीन हो गया है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका पिछले 13...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 01, 2018, 05:40 AM IST

हड़ताली कर्मचारियों के प्रति प्रदेश सरकार का रवैया संवेदनहीन हो गया है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका पिछले 13 दिन से हड़ताल पर हैं, लेकिन सरकार उन्हें नियमित करने पर विचार नहीं कर रही है। मुंगावली और कोलारस में भाजपा बुरी तरह से परास्त हो गई है लेकिन उसका रवैया नहीं बदला है। 5 हजार रुपए में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का गुजारा नहीं हो रहा है। उन्हें नियमित वेतनमान मिलना चाहिए।

यह बात गंजबासौदा के कांग्रेस विधायक निशंक जैन ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के धरना स्थल पर पहुंचकर अपना समर्थन देते हुए कही। विधायक ने कहा कि इससे पहले भाजपा अटेर और चित्रकूट विधानसभा चुनाव भी हार चुकी है लेकिन उससे सबक नहीं ले रही है। पूरे प्रदेश में झूठे वायदे और घोषणाएं मुख्यमंत्री करते जा रहे हैं। इससे पहले विधायक निशंक जैन जिला सहकारी समिति कर्मचारी संघ के धरना स्थल पर पहुंचे और अपना समर्थन दिया।

विधायक ने कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा कि जो सरकार तुम्हे अर्ध नग्न होकर प्रदर्शन करने के लिए मजबूर कर रही है, तुम भी उसके कपड़े उतरवा दो। कर्मचारियों की सभी मांगें जायज हैं। सभी मांगों का निराकरण जल्द होना चाहिए। जरूरत होगी तो वे सभी आंदोलनकारी कर्मचारियों के साथ मुंडन करवाने और भोपाल जाकर प्रदर्शन करन को भी तैयार हैं। इससे पहले कांग्रेस नेत्री आशा सिंह राजपूत ने भी कर्मचारियों को अपना समर्थन दिया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Vidisha News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: हड़ताली कर्मचारियों के प्रति सरकार का रवैया संवेदनहीन: विधायक जैन
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Vidisha

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×