• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Vidisha News
  • दवाइयां नहीं मिलने पर अस्पताल के सामने धरने पर बैठे विधायक
--Advertisement--

दवाइयां नहीं मिलने पर अस्पताल के सामने धरने पर बैठे विधायक

भास्कर संवाददाता | गंजबासौदा शासकीय जन चिकित्सालय में मरीजों को दवाएं नहीं मिलने के विरोध में शनिवार को धरना...

Danik Bhaskar | Jul 01, 2018, 05:35 AM IST
भास्कर संवाददाता | गंजबासौदा

शासकीय जन चिकित्सालय में मरीजों को दवाएं नहीं मिलने के विरोध में शनिवार को धरना दिया गया। धरने की सूचना मिलने के बाद तहसीलदार डाॅ. निधि वर्मा मौके पर पहुंची। विदिशा में अधिकारियों से मोबाइल पर संपर्क करने के बाद उन्होंने कहा कि 24 घंटे में दवाओं की पूर्ति अस्पताल में हो जाएगी। विधायक ने दो टूक शब्दों में कहा कि में आपके द्वारा तय किए गए समय के बाद अस्पताल में निरीक्षण के लिए आऊंगा यदि जरुरी दवाओं की कमी पाई गई तो अब अनिश्चितकालीन धरना दिया जाएगा। इसकी जवाबदारी प्रशासन की होगी। विधायक अस्पताल के निरीक्षण पर गए थे। सभी मरीजों ने उनको बताया कि डॉक्टर जो दवाएं व इंजेक्शन पर्चे पर लिख रहे हैं। उनमें से 75 फीसदी दवाएं बाजार से खरीदकर लाना पड़ रही हैं। उदाहरण के तौर पर किसी मरीज के पर्चे पर 6 दवाएं लिखी हैं तो उनमें से अस्पताल में 4 उपलब्ध ही नहीं हैं। इसके बाद उन्होंने स्वास्थ कमिश्नर भोपाल पल्लवी जैन को सारी स्थिति से अवगत कराया और मुख्य गेट के सामने परिसर में लोगों के साथ धरने पर बैठ गए।

बाजार से खरीद सकते हैं दवाएं: विधायक ने कहा कि जब से वन मंत्री गौरीशंकर शेजवार की साली को जिला चिकित्साधिकारी के रुप में पदस्थ किया गया है पूरे जिले में स्वास्थ्य व्यवस्था गड़बड़ हो गई है। दवाओं को लेकर उनकी चर्चा दो दिन पहले भोपाल में स्वास्थ्य कमिश्नर से हुई थी उन्होंने कहा था कि सरकार द्वारा रेट की सूची जिला चिकित्साधिकारी को दी गई है वह उस रेट पर दवाएं बाजार से खरीद सकते हैं। हेल्थ कमिश्नर ने जिला चिकित्साधिकारी से पूछा तो उन्होंने कहा कि दवाओं की कमी नहीं है जबकि मरीजों को दवाएं नहीं मिल रही ।