--Advertisement--

अंचल के कई स्कूलों में लगा रहता है ताला

अंचल के कई स्कूलों में लगा रहता है ताला इनमें से कई ऐसे स्कूल हैं जहां ताला पड़ा रहता है। कई प्राथमिक स्कूलों...

Danik Bhaskar | Jul 10, 2018, 05:35 AM IST
अंचल के कई स्कूलों में लगा रहता है ताला

इनमें से कई ऐसे स्कूल हैं जहां ताला पड़ा रहता है। कई प्राथमिक स्कूलों में शिक्षकों के स्थान पर कोई गांव का या आसपास का युवक स्कूल खोलता और बंद करता है और वही बच्चों को पढ़ता है। शिक्षक तो सिर्फ चक्कर लगाने जाते हैं। उपस्थिति दर्ज करने पहुंचते हैं। इन स्कूलों का शिक्षा स्तर कैसा है। कई बार अधिकारियों की जांच में सामने आ चुका है।

वास्तविकता...जहां बच्चे हैं वहां शिक्षकों की कमी

गांव के राजेश लोधी, कमलेश चिड़ार और कमलेश लोधी का कहना है कि विकासखंड में 50 से ज्यादा स्कूल ऐसे हैं जहां बच्चों की संख्या के मान से दो से तीन शिक्षक कम हैं और कहीं एक ही शिक्षक के भरोसे स्कूल चल रहा। कहीं दो शिक्षक हैं। जबकि जहां बच्चे नहीं हैं वहां एक और दो शिक्षक पदस्थ हैं। शिक्षकों को हटाकर ऐसे स्कूलों में पदस्थ किया जा सकता है जहां बच्चे ज्यादा हैं। कम बच्चों के स्कूलों में अतिथि शिक्षक रखे जा सकते हैं।

प्राचार्य को शिक्षक की व्यवस्था करने को कहा है