• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Vidisha News
  • शिक्षा विभाग कार्यालय में मां सरस्वती के चित्र जलाने पर एनएसयूआई का विरोध
--Advertisement--

शिक्षा विभाग कार्यालय में मां सरस्वती के चित्र जलाने पर एनएसयूआई का विरोध

एसडीएम के नाम कलेक्टर को ज्ञापन देकर कार्रवाई की मांग की भास्कर संवाददाता|विदिशा एनएसयूआई ने सोमवार को...

Danik Bhaskar | Jul 10, 2018, 05:40 AM IST
एसडीएम के नाम कलेक्टर को ज्ञापन देकर कार्रवाई की मांग की

भास्कर संवाददाता|विदिशा

एनएसयूआई ने सोमवार को एसडीएम को कलेक्टर के नाम एक ज्ञापन सौंपा। इस ज्ञापन के जरिए एनएसयूआई ने जिला शिक्षा कार्यालय परिसर में मां सरस्वती के चित्र को जलाए जाने का विरोध जताया।

ज्ञापन में बताया कि जिला शिक्षा विभाग के पास के एक कक्ष में बड़ी संख्या में स्कूली किताबें वितरण के अभाव में धूल खा रही हैं। कक्षा 9वीं, 10वीं, 11वीं एवं 12वीं की किताबें बंडलों में पैक स्थिति में पिछले दो सालों से स्टोर में रखी हुईं थीं। इन किताबों के साथ मार्गदर्शिका को शनिवार की रात में नष्ट करने के लिए जला दिया गया। मार्गदर्शिका के मुख्य पृष्ठ पर मां सरस्वती की तस्वीर बनी हुई थी, जिसे भी जलाने से विभाग के कर्मचारियों ने एक बार भी विचार नहीं किया।

एनएसयूआई के प्रदेश महामंत्री अशद खान ने बताया कि शिक्षा के मंदिर में ही शिक्षा के देवी की सरस्वती के चित्र को जलाना अपमान जनक है। उन्होंने एसडीएम से संबंधितों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है। ज्ञापन सौंपने वालों में मुख्य रूप से जयंत अग्रवाल, अमन सक्सेना, आशीष यादव, रोहित बघेल, मौसम अग्रवाल, विक्रम रघुवंशी, प्रभात विश्वकर्मा, इमरान अली, निखिल सेन, सूरज चंदेल, मोनू राजपूत आदि मौजूद रहे।