Hindi News »Madhya Pradesh »Vidisha» बेगम, बीना और बेतवा नदी उफान पर, सुबह 10 से दोपहर 1 बजे तक बंद रहा सागर-भोपाल मार्ग

बेगम, बीना और बेतवा नदी उफान पर, सुबह 10 से दोपहर 1 बजे तक बंद रहा सागर-भोपाल मार्ग

भास्कर संवाददाता| रायसेन/ गैरतगंज। देर रात से लेकर शुक्रवार दोपहर तक कभी तेज तो कभी रिमझिम बारिश के कारण जिले की...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 14, 2018, 06:00 AM IST

  • बेगम, बीना और बेतवा नदी उफान पर, सुबह 10 से दोपहर 1 बजे तक बंद रहा सागर-भोपाल मार्ग
    +1और स्लाइड देखें
    भास्कर संवाददाता| रायसेन/ गैरतगंज।

    देर रात से लेकर शुक्रवार दोपहर तक कभी तेज तो कभी रिमझिम बारिश के कारण जिले की नदियां उफान पर आ गईं। इससे भोपाल-सागर स्टेट हाईवे तीन घंटे बंद रहा, वहीं दूसरी ओर पग्नेश्वर पुल पर बेतवा का पानी आ जाने के कारण दोपहर तक एनएच 146 बंद रहा। इधर सिलवानी में भी बेगम नदी के उफान पर आ जाने एक मकान ढह गया। इस घटना परिवार के छह लोग घायल हो गए। वहीं बेगमगंज में पड़रिया राजाधार मार्ग का सहका नाला उफान पर होने से लोग जोखिम उठाकर निकलते रहे।

    सांची- भोपाल और सागर-भोपाल मार्ग बंद होने से दोनों सड़कों पर ट्रैफिक रुका रहा। लोगों को पुल से पानी उतरने के लिए कहीं दो घंटे तो कहीं तीन घंटे तक इंतजार करना पड़ा। जिले में औसत बारिश डेढ़ सेमी दर्ज की गई है, लेकिन तेज हुई बारिश ने स्थिति बिगाड़ दी। गैरतगंज में सुबह 8 से 11 बजे तक हुई तेज बारिश से नगर के आधा दर्जन वार्डों में पानी भर गया। बीना नदी के उफान पर आ जाने से कहुला पुल पर पानी आ गया। इससे भोपाल-सागर स्टेट हाईवे सुबह 10 से दोपहर 1 बजे तक बंद रहा।

    बड़ा सवाल...जब पुलों के ऊपर पानी आ रहा तो लोगों को रोकने की व्यवस्था क्यों नहीं की जा रही

    बेगमगंज में पड़रिया राजाधार मार्ग का सहका नाला उफान पर होने के बाद जान जोखिम में डालकर लोग निकलते रहे।

    जान खतरे में डालकर निकले लोग

    बेतवा पुल पर पानी होने के बाद भी बाइक चालक जोखिम उठाकर निकलते रहे। इसके चलते हादसा होने की आशंका बनी रही। रात को पग्नेश्वर पुल पर पानी आ गया। इसके बाद दोपहर तक पुल पर पानी बना रहा।

    सिलवानी में मकान की दीवार गिरने से 6 लोग घायल

    सिलवानी में गुरुवार रात से शुरू हुई बारिश से बेगम नदी उफान पर आ गई। इससे कमलेश कुशवाह का मकान ढह गया। घर में रहने वाले लोगों के ऊपर मकान का छप्पर गिरने से 6 लोग घायल हो गए। उन्हें इलाज के लिए स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया। घायलों में मोहनी प|ी केशर सहित प्रियंका,मोहनी, सुमित, मनबाई शामिल हैं। इतना ही नहीं उनके घर में रखा सामान भी बाढ़ के पानी में बह गया।

    बाइक निकली तो कलेक्टर से कहा चालू हाे गया मार्ग

    कौड़ी पर अस्थाई पुलिया बह जाने के बाद से 50 घंटे तक रायसेन और विदिशा का सड़क संपर्क कटा रहा। ठेकेदार कंपनी ने वहां फिर पाइप डालकर मिट्टी के ऊपर कुछ सीमेंट कांक्रीट डाल दिया और कलेक्टर एस प्रिया मिश्रा से कह दिया कि रास्ता चालू हो गया, जबकि वहां से बसें निकलने की स्थिति दिखाई नहीं दे रही थी।

    गैरतगंज के आधा दर्जन वार्डों में भरे पानी से हुई परेशानी

    नगर में कुछ दिन पहले एक ही दिन में 17 सेमी बारिश होने से बीना नदी उफान पर आ गया थी। इस दौरान भी भोपाल-सागर मार्ग बंद हो गया था। अब सीजन में दूसरी तेज बारिश ने नगर के हालात बिगाड़ दिए। वार्ड तीन, चार, सात, आठ, दस और ग्यारह की निचली बस्तियों सहित कुछ घरों में भी बारिश का पानी भर गया।

  • बेगम, बीना और बेतवा नदी उफान पर, सुबह 10 से दोपहर 1 बजे तक बंद रहा सागर-भोपाल मार्ग
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Vidisha

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×