• Hindi News
  • Mp
  • Vidisha
  • Vidisha News mp news after a long wait an 80 meter long shed on platform 1 of the station started

लंबे इंतजार के बाद स्टेशन के प्लेटफार्म 1 पर 80 मीटर लंबा शेड बनना हो गया शुरू

Vidisha News - भास्कर संवाददाता | गंजबासौदा रेलवे स्टेशन के प्लेट फार्म एक पर यात्रियों की सुविधा के लिए 80 मीटर लंबे नए शेड का...

Oct 12, 2019, 09:40 AM IST
भास्कर संवाददाता | गंजबासौदा

रेलवे स्टेशन के प्लेट फार्म एक पर यात्रियों की सुविधा के लिए 80 मीटर लंबे नए शेड का निर्माण शुरू हो गया है। नया शेड फुटब्रिज से आरपीएफ चौकी के सामने लगे स्थाई बोर्ड तक बनाया जा रहा है। इसके लिए निर्माण कार्य शुरू हो गया है। रेलवे स्टेशन के तीनों प्लेटफार्म की लंबाई अब 590 मीटर हो चुकी है, लेकिन शेड पुराने ही थे।

यात्रियों की संख्या और प्लेटफार्म की लंबाई के मान से प्लेटफार्म एक व दो पर बने शेड बेहद छोटे हो चुके हैं। इसके कारण प्लेटफार्म दो पर भी शेड विस्तार की मांग की जा रही है। यात्रियों का जितना दबाव प्लेटफार्म पर रहता है। उतना ही दो व तीन पर रहता है। इधर रेलवे अधिकारियों का कहना है दूसरी तरफ के लिए भी डिमांड भेजी जा चुकी। लेकिन अभी प्लेटफार्म क्रमांक एक पर शेड विस्तार को स्वीकृति मिली है।

दूसरी तरफ के लिए भी डिमांड भेजी जा चुकी, शेड विहीन है प्लेटफार्म नंबर 4

70 लाख रुपए की लागत

प्लेटफार्म क्रमांक एक पर सत्तर लाख रूपया की लागत से जो शेड बनाया जा रहा है। उसकी लंबाई 80 मीटर है। जबकि चौड़ाई 15 मीटर रहेगी। ऊंचाई 11 मीटर ऊंचा होगा। शेड खड़ा करने के 12 आरसीसी के पायों के फाउंडेशन तैयार हो गए हैं। इन पर लोहे के गार्डर कसने के बाद शेड बनाया जाएगा। इसके निर्माण के बाद प्लेटफार्म एक पर पुराने और नए को मिलाकर शेड की लंबाई डेढ़ सौ मीटर के आसपास हो जाएगी।

प्लेटफार्म दो का जर्जर हो चुका शेड

प्लेटफार्म दो और तीन पर यात्रियों का दबाव एक की तरह रहता है। लेकिन उस पर यात्रियों की सुविधा के लिए बनाया शेड पुराना है। जर्जर हो चुका है। बारिश के दौरान पूरे शेड से पानी की धाराएं फूट रही थी। यात्रियों को भीगने से बचने के लिए छाता खोलकर खड़ा होना प्लेटफार्म पर शेड निर्माण की मांग यात्रियों द्वारा की जा रही है। लेकिन रेलवे से अभी तक स्वीकृति नहीं मिली।

ट्रेक के साथ नया प्लेटफार्म बना

तीसरे ट्रैक के साथ ही प्लेटफार्म क्रमांक 4 भी बना है। यह भी 590 मीटर लंबा है। लेकिन फिलहाल इस पर कोई शेड नहीं है। जबकि प्लेटफार्म के साथ ही इस पर शेड का निर्माण निर्माण कराया जाना था। हांलाकि इस प्लेटफार्म का उपयोग उस स्थिति में किया जाता है। जब अप ट्रैक पर जगह न हो। किंतु बारिश और गर्मी में इस प्लेटफार्म पर खड़े रहना भी संभव नहीं रहता।

मॉडल घोषित है स्टेशन

रेलवे स्टेशन को मॉडल के रूप में घोषित किया जा चुका है। घोषणा के हिसाब से सुविधाओं के विस्तार की गति बेहद धीमी है। सुविधाओं विस्तार की मांग को लेकर व्यापारिक, सामाजिक और राजनैतिक संगठन समय समय पर आने वाले रेल अधिकारियों को लगातार ज्ञापन सौंपते आ रहे हैं।

प्लेटफार्म एक पर शेड निर्माण स्वीकृति


X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना