24 घंटे तैनात रहेंगे गोताखोर, चेंजिंग रूम की संख्या बढ़ेगी

Vidisha News - इस बार मकर संक्रांति पर्व 15 जनवरी को मनाया जाएगा। इस पर्व के मौके पर हजारों की संख्या में श्रद्धालु बेतवा नदी के...

Bhaskar News Network

Jan 13, 2019, 05:25 AM IST
Vidisha News - mp news diver to stay posted for 24 hours number of changing rooms will increase
इस बार मकर संक्रांति पर्व 15 जनवरी को मनाया जाएगा। इस पर्व के मौके पर हजारों की संख्या में श्रद्धालु बेतवा नदी के विभिन्न घाटों पर स्नान करने के लिए पहुंचेंगे। इसको ध्यान में रखते हुए सुरक्षा सहित अन्य इंतजाम बेतवा के मुख्य तटों पर जा रहे हैं। शनिवार को कलेक्टर केवी सिंह बेतवा नदी के मुख्य घाटों पर व्यवस्थाओं का जायजा लेने के लिए पहुंचे। इस दौरान कलेक्टर सिंह ने संक्रांति पर्व पर स्नान के लिए बेतवा नदी पर आने वाले श्रद्धालुओं से जुड़ी जरूरी सुविधाओं के तहत तैयारियां समय पर पूरी करने के निर्देश नपा सीएमओ को दिए। कलेक्टर ने अपने निरीक्षण के दौरान मौजूद अधिकारियों को बेतवा नदी पर श्रद्धालुओं की सुरक्षा के इंतजामों पर विशेष जोर दिया। कलेक्टर ने संक्रांति पर्व पर बेतवा नदी के मुख्य घाटों पर 24 घंटे गोताखोर सहित महिला सुरक्षाकर्मी तैनात करने को कहा। इसके अलावा महिलाओं के लिए कपड़े बदलने के लिए घाटों पर चेजिंग रूम की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए। तेज ठंड को ध्यान में रखते हुए कलेक्टर ने सीएमओ सत्येंद्र धाकरे को बेतवा के घाटों पर सुबह अलाव की व्यवस्था श्रद्धालुओं के लिए करने को कहा।

मकर सक्रांति के स्नान से पूर्व जिला प्रशासनिक अधिकारियों ने व्यवस्थाओं का लिया जायजा।

बेतवा के घाटों पर विशेष साफ-सफाई करने के निर्देश

कलेक्टर सिंह ने इस निरीक्षण के दौरान में अधिकारियों से बेतवा नदी में पानी की उपलब्धता के संबंध में जहां पूछताछ की, वहीं घाट पर साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने स्पष्ट तौर पर कहा कि घाटों की सीढ़ियों पर फिसलन न हो इसका विशेष ध्यान रखा जाए। इसके अलावा संक्रांति पर जिले के उदयपुर, गमाखर सहित अन्य स्थानों पर भरने वाले मेले से संबंधित व्यवस्थाओं की भी समीक्षा की। अधिकारियों से घाट पर साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिए।

सूर्य का मकर राशि में प्रवेश सोमवार की रात्रि में होने से मंगलवार को मनेगी संक्रांति

सूर्य का मकर राशि में प्रवेश 14 जनवरी सोमवार को रात्रि के समय होने के कारण मकर सक्रांति का पुण्य काल 15 जनवरी को सुबह से ही रहेगा। ज्योतिषाचार्य पं. विनोद शास्त्री के अनुसार, सूर्य के मकर राशि में जाने पर मकर संक्रांति पर्व मनाया जाता है। उन्होंने बताया कि पौष मास की शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि पर सोमवार को रेवती नक्षत्र की साक्षी में मकर संक्रांति का पर्व मनाया जाएगा। मकर राशि में प्रवेश करते ही सूर्य उत्तरायण हो जाएगा। 15 जनवरी को सुबह से ही अमृत सिद्धि योग है। इस योग में किया गया दान-पुण्य अमृत के समान होता है।

X
Vidisha News - mp news diver to stay posted for 24 hours number of changing rooms will increase
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना