• Hindi News
  • Mp
  • Vidisha
  • Vidisha News mp news if you want to be healthy then use this body and soul properly minshri

स्वस्थ रहना चाहते हो तो इस शरीर का और आत्मा का सही प्रयोग करो: मुिनश्री

Vidisha News - बाहर से अपने आपको सुरक्षित रखने का प्रयास करते हो लेकिन अंदर से अपने आपको सुरक्षित नहीं कर पाते आप जानते हो कि...

Feb 21, 2020, 09:31 AM IST
Vidisha News - mp news if you want to be healthy then use this body and soul properly minshri

बाहर से अपने आपको सुरक्षित रखने का प्रयास करते हो लेकिन अंदर से अपने आपको सुरक्षित नहीं कर पाते आप जानते हो कि जीवन का कोई भरोसा नहीं इसलिए आप बीमा करते हो लेकिन क्या वह बीमा आपको सुरक्षित कर पाता है? उपरोक्त उदगार मुनि प्रमाण सागर महाराज ने शीतलधाम में प्रातः कालीन प्रवचन सभा में व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि यदि वास्तव में आप अपने आपको सुरक्षित करना चाहते हो और स्वस्थ रहना चाहते हो तो इस शरीर का और इस आत्मा का सही प्रयोग करो। साथ ही धन का सही उपयोग कर लोगे तो आप धन्य हो जाओगे। जिस शरीर को आप अच्छा मान रहे हो यदि वह शरीर बीमार पड़ गया तो वह आपके ऊपर भार बन जाएगा। महाराज श्री ने कहा कि जब तक यह शरीर स्वस्थ है और मृत्यु आपके निकट नहीं आ रही है तब तक शरीर का सही उपयोग और प्रयोग कर लो। उन्होंने कहा कि अपने स्वास्थ को मेनटेन करते हुए धर्म में लगते हो तो तुम्हारा जीवन धन्य हो जाएगा। उन्होंने विदिशा जैन समाज की प्रशंसा करते हुए कहा कि यहां पर बैठे हुए सभी धनवान हैं और वह धन का प्रयोग और सदुपयोग करना भी जानते हैं। कल हमने अपील की थी कि विदिशा नगर के जैन समाज के प्रत्येक घर से सहस्त्रकूट जिनालय में एक प्रतिमा तो अवश्य विराजमान करना चाहिए और लगभग 60-70 नाम तो तुरंत ही आ गए थे।

धन का करें सदुपयोग

मुनि श्री ने कहा कि जो लोग बचे हैं वह भी अपने धन का सदुपयोग करें। उन्होंने कहा कि जो अपने धन का सही सदुपयोग करते हैं वही जीवन को धन्य वना पाते है। मुनि प्रमाण सागर महाराज ने कहा कि जो भी अपने धन को अपने साथ ले जाना चाहते है हो तो हमारी कंपनी की बीमा पालिसी ले लो। जो हम यहां विदिशा में दे रहे हैं। आचार्य श्री के आशीर्वाद से आपके यहां पर यह विशाल समवसरण मंदिर बन रहा है। वह एक ऐतिहासिक धरोहर के रुप में हजारों सालों तक सुरक्षित रहने वाला है जो आपके इस भव के साथ अगले भव को भी सुरक्षा प्रदान करेगा। इसलिए में तो कहता हूं कि शीतलधाम के समवसरण में यदि आप धन लगाओगे तो अपने भाग्य को अपने सौभाग्य में बदल लोगे।

दुनिया में ऐसी कोई कंपनी नहीं जो जीवन के बाद का बीमा करती हो

मुनि श्री ने कहा कि जो कुछ भी आपके पास आज है वह कल रहेगा या नहीं रहेगा यह जरुरी नहीं। जब आप अपने आपको असुरक्षित महसूस करते हो तो जीवन का बीमा कराते हो लेकिन दुनिया में ऐसी कोई कंपनी नहीं जो जीवन के बाद का बीमा करती हो वह कंपनी आजकल आपके विदिशा में ही खुली हुई है। उन्होंने कहा कि अपनी आत्मा का बीमा कराओ। यदि एक बार तुमने उससे जोड़ लिया तो यह भव और पर भव दोनों सुधर जाएंगे। हम आप सभी को ये जीवन मिला है। उसकी एक एक सांस का उपयोग करना है। उन्होंने योग, प्रयोग, पीड़ा और पुरस्कार पर चर्चा करते हुए कहा कि जो तुम्हे मिला है वह अच्छा मिला है। जब तुम स्वस्थ थे तब तुमने धर्म किया नहीं और जब बुढ़ापा आ गया तब तो धर्म कर ही नहीं सकते। उन्होंने कहा कि जब शरीर का सत्व ही निकल गया तब तुम धर्म कैसे करोगे? उन्होंने कहा कि दुखद निधन हो उसके पहले अपने धन का सदुपयोग करो और अपने जीवन को धन्य बनाओ।

धन या तो उपभोग करो या उपयोग करो

मुनि श्री ने कहा कि धन या तो उपभोग करो या उपयोग करो अन्यथा वह नष्ट तो होगा ही। यह नहीं कहता कि आप सब कुछ दान कर दो। परिवार का जीवन पूर्ती आपकी सबसे पहली प्राथमिकता होना चाहिए लेकिन उसके बाद जहां पर इस धन की ज़रुरत है वहां पर दोगे तो उस धन का सदुपयोग होगा। धन के दुरुपयोग से आत्मा पतित होती है वहीं सदुपयोग से आत्मा पवित्रता का प्रतीक बन जाती है। बीमा कराना ही है तो आत्मा का बीमा कराओ यही आपका असली बीमा है ।

विचार: स्वास्थ को मेनटेन करते हुए धर्म में लगते हो तो तुम्हारा जीवन धन्य होगा


बनोगे भक्त बदलेगा वक्त-उत्तम सागर महाराज

इस अवसर पर मुनि उत्तम सागर महाराज ने कहा कि बनोगे भक्त बदलेगा वक्त, बनोगे शिष्य बनेगा भविष्य पर अपना संबोधन दिया। इस अवसर पर मंच पर मुनि प्रसाद सागर, मुनि पुराण सागर, मुनि शैल सागर एवं मुनि निकलंक सागर विराजमान थे। श्री सकल दिगंबर जैन समाज के प्रवक्ता अविनाश जैन ने बताया कि मुनि श्री के दर्शन करने एवं आशीर्वाद के लिए विदिशा नगर के गणमान्यजन के साथ बाहर से आने वाले अतिथियों का तांता लगा हुआ है। गुरुवार को नगर के अधिवक्ताओं ने वार एसोसिएशन के साथ आकर पूज्य गुरुदेव के दर्शन किए। श्री जैन ने बताया कि मुनि श्री के लाइव प्रवचन प्रातः काल 8.30 से, आहार चर्या 10 बजे से और शंका समाधान 6.15 से शीतलधाम पर चल रहे हैं।

मुनि प्रमाण सागर महाराज ने शीतलधाम में प्रातः कालीन प्रवचन सभा में व्यक्त किए।

X
Vidisha News - mp news if you want to be healthy then use this body and soul properly minshri

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना