साधक का उद्देश्य आध्यात्मिक होना चाहिए, लौकिक नहीं: पं. अंकितकृष्ण

Vidisha News - रीठा फाटक स्थित वैशाली नगर में चल रही श्रीमद्भागवत कथा के तीसरे दिन गोवत्स पंडित अंकितकृष्णजी तेनगुरिया ने कहा...

Dec 04, 2019, 11:02 AM IST
रीठा फाटक स्थित वैशाली नगर में चल रही श्रीमद्भागवत कथा के तीसरे दिन गोवत्स पंडित अंकितकृष्णजी तेनगुरिया ने कहा कि जीव संसार में रहे लेकिन लौकिक वस्तुओं के होते हुए भी उसका उद्देश्य लौकिक ना होकर आध्यात्मिक होना चाहिए। जिससे वह सदैव अध्यात्म के पथ पर अग्रसर होता रहे। बटुकजी महाराज ने कहा कि भगवान की कथा को सदा श्रवण करना चाहिए भगवान की कथा श्रवण करने से दुखों को सहन करने की शक्ति स्वतः प्राप्त हो जाती है। कथा सुन रहे हो तो भरोसा करो। इसका विश्वास करोगे तभी हरी से मिलन होगा। जिस तरह बर्तन को राख से मांज कर चमकाते हो अगर थोड़ी भी राख लगी रह जाए तो उस बर्तन में भोजन करने वाला समझ जाता है ठीक इसी तरह जीवन में लापरवाही हो, संस्कार हीन हो तो जीवन बिगड़ जाता है। इसलिए आपके पास कितना भी ज्ञान हो उसे अच्छी जगह लगाओ। श्री तेनगुरिया ने कहा कि संत महात्मा को पैसों का मोह नहीं होता। परंतु श्रीश्री, आचार्य जैसे तमंगे के अभिलाषी रहते हैं, यह अहंकार है। जबकि हरी से बड़ा कोई नहीं इसलिए अहंकार छोड़ो त्याग करना सीखो। ध्रुव जी महाराज ने त्याग करके भगवान को प्राप्त कर लिया। उन्होंने कहा कि जगत से की हुई ममता जीव को बांध देती है और वही ममता जब भगवान से कर ली जाती है तो वह मोक्ष प्रदान करती है। इसलिए जगत से सदा प्रेम करना चाहिए और भगवान से सदा ममता करना चाहिए। कर्दम देवहूति संवाद, ध्रुवचरित्र, जड़भरत उपाख्यान का वर्णन करते हुए कहा कि जीव के द्वारा किए गए सत्कर्म उसे जीते जी स्वर्ग में बिठा देते हैं और जीव के द्वारा किए गए निंदनीय कर्म उसे जीते जी नर्क में बिठा देते हैं। इसलिए सदैव सदकर्मों को करना चाहिए और अपने संग को सदा जीतना चाहिए। इस दौरान सैकड़ों श्रद्धालुओं ने उपस्थित होकर कथा का श्रवण किया। सुंदर-सुंदर भजनों पर नाचते हुए हरि भक्त भाव विभोर हो गए। कथा के चौथे दिन भव्य कृष्ण जन्मोत्सव मनाया जाएगा। इस दौरान कथा के मुख्य यजमान मिश्रीलाल कुशवाह और महेश कुशवाह ने सभी श्रद्धालुओं से अधिक से अधिक संख्या में उपस्थित होकर धर्म लाभ लेने की अपील की।

उदय नगर कॉलोनी में चल रही श्रीमद्भागवत कथा का आयोजन किया गया।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना