जब से कांग्रेस आई है बिजली क्यों गुल हो जाती है

Vidisha News - बिजली कंपनी के जीएम कार्यालय में विधायक शशांक भार्गव। कांग्रेस विधायक शशांक भार्गव ने कहा- मैंने बिजली कंपनी को...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 09:40 AM IST
Vidisha News - mp news since the congress has come why is the power lost
बिजली कंपनी के जीएम कार्यालय में विधायक शशांक भार्गव।

कांग्रेस विधायक शशांक भार्गव ने कहा- मैंने बिजली कंपनी को 35 पत्र लिखे, लेकिन एक का भी जवाब नहीं आया

भास्कर संवाददाता|विदिशा

अहमपुद रोड स्थित बिजली कंपनी के जीएम कार्यालय में विधायक शशांक श्रीकृष्ण भार्गव गुरुवार को समीक्षा बैठक में शामिल हुए और कंपनी के अफसरों की जमकर क्लास ली। इस दौरान उन्होंने बिजली कंपनी के कर्मचारियों की खामियांे और बिजली कंपनी के अफसरों की लापरवाही पर बेहद नाराजी जताई। विधायक श्री भार्गव बिजली सप्लाई, हाइटेंशन लाइन की शिफ्टिंग और कॉलोनियों में बिजली के कनेक्शन देने के मुद्दे पर चर्चा करने पहुंचे थे।

यहां विधायक श्री भार्गव का कहना था कि जब से कांग्रेस सरकार आई है तब से बिजली बार-बार गुल होने की शिकायतें बहुत आ रही हैं। विधायक का कहना था कि इस वजह से लोगों के बीच संदेश गलत जा रहा है। बिजली कंपनी के अधिकारियों और कर्मचारियों की लापरवाही की वजह से सरकार पर सवाल खड़े हो रहे हैं। इसकी वजह क्या हो सकती है। विधायक के सवाल पर बिजली कंपनी के एई काेई जवाब नहीं दे पाए। बिजली कंपनी के एजीएम अवधेश त्रिपाठी का कहना था कि शहर में तो ऐसा नहीं हो रहा लेकिन गांव में जरूर बिजली गुल हो रही है। इस बात पर विधायक का कहना था कि मुझे पूरी जानकारी है। मैंने बिजली ट्रिपिंग का डाटा बुलाकर रखा है। शहर में भी बिजली गुल हो रही है।

इसके बाद बिजली कंपनी के जीएम जोस के पुंजाट का कहना था कि बिजली तारों से पेड़ों की टहनियां टकरा जाती हैं। इस वजह से कई बार फाल्ट हो जाता है। इस वजह से बिजली गुल हो जाती है। विधायक ने कंपनी के एक लाइनमैन की शिकायत भी की। एक लाइन मैन की बहुत शिकायतें आ रही हैं। उसे हटाया जाए। साथ ही उन्होंने कहा कि मैंने बिजली कंपनी को अलग-अलग समस्याओं को लेकर 35 पत्र लिखे हैं लेकिन अब तक एक का भी जवाब नहीं आया है। इस बात पर एजीएम का कहना था कि पत्रों पर काम कर रहे हैं।

जीएम का जवाब

पेड़ों की टहनियां तारों से टकराने से ऐसा होता है

X
Vidisha News - mp news since the congress has come why is the power lost
COMMENT