• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Vidisha
  • Vidisha ट्रैफिक कंट्रोल करने सिग्नल पाइंट पर पुलिसकर्मी खड़े थे लेकिन तकनीकी खामियाें से उलझे चालक तो लगा जाम
--Advertisement--

ट्रैफिक कंट्रोल करने सिग्नल पाइंट पर पुलिसकर्मी खड़े थे लेकिन तकनीकी खामियाें से उलझे चालक तो लगा जाम

Vidisha News - एक दिन पहले सोमवार को शहर के सबसे व्यस्ततम नीमताल चौराहे पर ट्रैफिक सिग्नल सिस्टम चालू कर दिया गया है। ट्रैफिक...

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2018, 05:50 AM IST
Vidisha - ट्रैफिक कंट्रोल करने सिग्नल पाइंट पर पुलिसकर्मी खड़े थे लेकिन तकनीकी खामियाें से उलझे चालक तो लगा जाम
एक दिन पहले सोमवार को शहर के सबसे व्यस्ततम नीमताल चौराहे पर ट्रैफिक सिग्नल सिस्टम चालू कर दिया गया है। ट्रैफिक सिग्नल सिस्टम लागू होने के बाद भी मंगलवार को नीमताल पर ट्रैफिक पहले से ज्यादा बेतरतीब नजर आया। दैनिक भास्कर ने इसकी पड़ताल की तो सिग्नल पाइंट, सिग्नल टाइमिंग, मार्किंग और नॉन स्टॉप सिग्नल से जुड़ी तकनीकी खामियां सामने आईं। इन कमियों की वजह से यहां ट्रैफिक जाम व दुर्घटनाओं जैसी स्थिति बन रही थी। ट्रैफिक सिग्नल के शुरुआती दौर में चारों सिग्नल पाइंट पर ट्रैफिककर्मी तैनात थे। इसके बावजूद ट्रैफिक व्यवस्था रह रहकर गड़बड़ा रही थी।

दैनिक भास्कर ने पहले दिन ट्रैफिक सिग्नल सिस्टम की पड़ताल की तो चार बड़ी कमियां सामने आईं हैं। इनमें चौराहे पर मार्किंग नहीं होना जहां सबसे बड़ी कमी है, वहीं कागदीपुरा मार्ग पर ट्रैफिक सिग्नल पाइंट गलत जगह पर रखा गया है। इसके अलावा अस्पताल रोड के ट्रैफिक सिग्नल में लेफ्ट टर्निंग नॉन स्टॉप रखना दुर्घटना का कारण बन रही है। चौथी कमी इन सिग्नलों की टाइमिंग नजर आई। इन कमियों की वजह से तिराहे पर जाम, दुर्घटनाओं जैसी स्थिति बन रही थी। वाहन चालक भी इन कमियों के चलते असमंजस में दिखाई दिए। हालांकि ट्रैफिक पुलिस भी ट्रैफिक सिग्नल सिस्टम से जुड़ी बुनियादी कमियों का आंकलन कर जरूरी सुधार कराने का सुझाव देने की बात कह रही है।

मंगलवार शाम 5 बजे से शुरू हुए ट्रैफिक सिग्नल की भास्कर ने पड़ताल कर जानी हकीकत

नीमताल चौराहे पर मिली खामियों पर बाेले अधिकारी-ट्रैफिक सिग्नल सिस्टम अभी ट्रायल दौर में है

मार्किंग के अभाव में ट्रैफिक कर्मियों की मौजूदगी में भी रह-रह कर इस तरह बिगड़ता रहा ट्रैफिक।

ट्रैफिक सिग्नल से जुड़ी तकनीकी कमियां और समाधान के 3 मामले

नॉन स्टॉप टर्निंग से होंगे हादसे

अस्पताल रोड पर लगाया ट्रैफिक सिग्नल जोखिम का सबब साबित हो रहा है। इस सिग्नल में ओवर ब्रिज पर चढ़ने वाले वाहनों की टर्निंग को नॉन स्टॉप रखा है। ऐसे में भोपाल तरफ का ट्रैफिक छूटने पर तेज रफ्तार में वाहन ब्रिज पर चढ़ते वक्त अस्पताल रोड से टर्न होने वाले वाहन आमने-सामने उलझ रहे थे। इससे दुर्घटना जैसी स्थिति बन रही थी।

समाधान: इस सिग्नल पाइंट में वाहन चालकों के लिए फ्रंट ऐरो की तरह ही लेफ्ट टर्निंग के लिए रेड और ग्रीन सिग्नल की टाइमिंग रखा जाना सुविधाजनक होगा।

मार्किंग के अभाव में सिग्नल से आगे खड़े हो रहे वाहन

ट्रैफिक सिग्नल सिस्टम में सबसे बड़ी कमी इस चौराहे पर मार्किंग नहीं होना है। मार्किंग के तहत जेब्रा क्रॉसिंग, स्टॉप लाइन सहित अन्य पटिट्यां अभी नहीं बनाई गई हैं। इस स्थिति मं चौराहे पर ट्रैफिक सिग्नल के सभी पाइंट पर वाहन चालक असमंजस की वजह से कहीं भी वाहन रोक रहे हैं। इससे दूसरी तरफ से छूटने वाला ट्रैफिक बाधित हो रहा है।

समाधान:इस समस्या के समाधान के लिए जल्द से जल्द चौराहे पर मार्किंग किया जाना चाहिए। यह मार्किंग ट्रैफिक ट्रैफिक पुलिस के मार्गदर्शन के तहत होना चाहिए।

कागदीपुरा रोड का सिग्नल पाइंट गलत होने से लग रहा जाम

इस ट्रैफिक सिग्नल सिस्टम के तहत कागदीपुरा रोड पर बनाया गया सिग्नल पाइंट गलत जगह माना जा रहा है। यहां पर सिग्नल की रेड लाइट होने पर बड़ी संख्या में वाहनों का ट्रैफिक थमने से पूरी सड़क जाम हो रही है। इससे ओवर ब्रिज और बस स्टैंड वाले वाहनों क्रॉस नहीं हो पा रहे हैं। ऐसी स्थिति में रह-रहकर जाम के हालात बन रहे थे।

समाधान: इस पाइंट को भोपाल तरफ से आने वाले वाहनों के सिग्नल पाइंट के साथ रखना सुविधा जनक होगा। ताकि कागदीपुरा रोड के वाहन चौराहे के चौड़े स्थान पर खड़े हो सकें।

कमियों को दूर कराया जाएगा


तकनीकी कमियां सामने आई हैं


पहल अच्छी है लेकिन समस्या आ रही है


X
Vidisha - ट्रैफिक कंट्रोल करने सिग्नल पाइंट पर पुलिसकर्मी खड़े थे लेकिन तकनीकी खामियाें से उलझे चालक तो लगा जाम
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..