कश्मीर में जिंदा ग्रेनेड से खेल रहे थे बच्चे, ब्लास्ट होने से एक की मौत; एक दिन पहले यहीं हुआ था एनकाउंटर

मंगलवार को इसी इलाके में एनकाउंटर के दौरान सेना ने 2 आतंकियों को मार गिराया था।

DainikBhaskar.com| Last Modified - Jul 11, 2018, 06:36 PM IST

Children playing with grenade left in encounter in jammu kashmir one killed four injured
कश्मीर में जिंदा ग्रेनेड से खेल रहे थे बच्चे, ब्लास्ट होने से एक की मौत; एक दिन पहले यहीं हुआ था एनकाउंटर

श्रीनगर.  कश्मीर में ग्रेनेड से खेलते वक्त एक बच्चे की ब्लास्ट से मौत हो गई। चार अन्य बच्चे घायल हैं। घटना शोपियां की है। इलाके में एक दिन पहले एनकाउंटर हुआ था। इसमें सेना ने दो आतंकियों को मार गिराया था। एनकाउंटर के बाद ये ग्रेनेड उसी इलाके में छूट गया था। बच्चों ने एनकाउंटर वाली साइट से यह ग्रेनेड उठा लिया था। 11 साल के सलिक खुर्शीद की अस्पताल ले जाते वक्त मौत हो गई। चार घायलों को शोपियां के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

ये सभी बच्चे आपस में भाई बताए जा रहे हैं। घटना शोपियां के मेमनदर गांव की है। यह साउथ कश्मीर का सबसे ज्यादा आतंकवाद से ग्रस्त इलाका है। मंगलवार को इसी इलाके में एनकाउंटर के दौरान एक नागरिक की मौत हो गई थी, जबकि सुरक्षाबलों पर पत्थरबाजी करते हुए 120 से ज्यादा घायल हो गए थे। 

 

कमांडो शहीद : सेना और आतंकियों के बीच बुधवार को कुपवाड़ा में मुठभेड़ हुई। इसमें एक कमांडो शहीद हो गया और एक घायल है। सेना के सूत्रों ने बताया कि शहीद कमांडो का नाम मुकुल मीणा है। साधु गंगा के जंगलों में आतंकियों के छिपे होने की सूचना के बाद से ही सेना यहां मंगलवार से तलाशी अभियान चला रही थी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now