मां को हज पर जाना था, इसलिए दवा लेने निकला था पुलिस जवान; आतंकियों ने अगवा कर गोलियां मारीं

आतंकियों ने तस्वीरें भी जारी की हैं; इसमें जावेद को बिना कपड़ों के दिखाया गया है।

DainikBhaskar.com| Last Modified - Jul 07, 2018, 11:26 AM IST

Kashmir: Police Constable Javed Ahmad Dar killed by militants as photos released
मां को हज पर जाना था, इसलिए दवा लेने निकला था पुलिस जवान; आतंकियों ने अगवा कर गोलियां मारीं

 

- आतंकियों ने 14 जून को आर्मी जवान औरंगजेब का अपहरण कर उनकी हत्या की थी

- आतंकियों ने कांग्रेस्टेबल जावेद के सिर में कई गोलियां मारी थीं

 

 

श्रीनगर. कश्मीर के आतंकी भी इस्लामिक स्टेट (आईएस) आतंकियों की तर्ज पर जवानों का कत्ल कर वीडियो और तस्वीरें जारी करने लगे हैं। 23 दिन में इस तरह की दूसरी वारदात की गई है। गुरुवार को कश्मीर के शोपियां जिले के पुलिस कांस्टेबल जावेद अहमद डार को आतंकियों ने अगवा कर हत्या कर दी। उनके सिर में कई गोलियां मारी गई थीं। पुलिस जवान का शव शुक्रवार को कुलगाम जिले के सेहपाेरा इलाके में सड़क के किनारे मिला।

जावेद की मां कुछ दिन बाद हज जाने वाली हैं। जावेद उनके लिए दवा लेने बाजार गए थे, ताकि उन्हें सफर में कोई दिक्कत नहीं हो। तभी कार से आए तीन आतंकियों ने उन्हें अगवा कर लिया। इसके पीछे हिजबुल मुजाहिदीन का हाथ माना जा रहा है। आतंकियों ने अपहरण के बाद जवान की तस्वीरें भी जारी की हैं। इसमें उनके शरीर पर कपड़े नहीं हैं। 14 जून को भी शोपियां के ही रहने वाले सेना के जवान औरंगजेब की आतंकियों ने हत्या कर दी थी। वहीं, गुरुवार को ही गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सुरक्षा को लेकर उच्चस्तरीय बैठक की थी। 

 

मां को अब भी बेटे के लौटने का भरोसा: जावेद का शव शुक्रवार को उनके घर पहुंचाया गया, लेकिन बदहवास मां को अब भी बेटे का इंतजार है। वह यही कह रही हैं कि उनका बेटा घर आएगा। घटना के बाद लोगों में आतंकियों के खिलाफ जबरदस्त गुस्सा है। 

 

आर्मी जवान औरंगजेब को भी ऐसे ही मारा था : आतंकियों ने 14 जून को आर्मी जवान औरंगजेब का अपहरण कर उनकी हत्या कर दी थी। 10 मई 2017 को सेना के लेफ्टिनेंट कर्नल फयाज अहमद का अपहरण कर हत्या की गई। इसी साल डीएसपी की मस्जिद के बाहर हत्या की गई। 

 

वानी की बरसी कल, यासीन गिरफ्तार, गिलानी नजरबंद : आतंकी बुरहान वानी की दूसरी बरसी से दो दिन पहले शुक्रवार को घाटी में तनाव की स्थिति रही। कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रशासन ने अलगाववादी नेता यासीन मलिक को गिरफ्तार कर लिया। वहीं सैयद अली शाह गिलानी को नजरबंद रखा गया है। अलगाववादियों ने 8 जुलाई को हड़ताल का ऐलान किया है। 

 

Topics:
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now