--Advertisement--

रेलवे स्टेशन में समोसा भी खरीदें तो दुकानदार से बिल लेना ना भूले, मना करने पर न दे पैसे

दुकानदार की शिकायत जीआरपी पुलिस और आईआरसीटीसी से कर सकते हैं ग्राहक।

Danik Bhaskar | Aug 30, 2018, 01:49 PM IST

मुंबई। रेल मंत्रालय ने अनिवार्य कर दिया है कि रेलवे स्टाल में ग्राहकों को सामान खरीदने पर बिल देना अनिवार्य है। यह व्यवस्था एक सितंबर 2018 से पूरे देश में लागू हो जाएगी। अगर कोई ग्राहक रेलवे की स्टाल से एक समोसा भी खरीदता है तो वह बिल लेने का हकदार है। दुकानदार इसका बिल देने से मना नहीं सकता। अगर कोई दुकानदार बिल देन से मना करता है तो ग्राहक को चाहिए कि वो पैसे न दें। साथ ही GRP पुलिस और IRCTC में शिकायत करे। रेलवे स्टाल से खरीदे सामान का बिल दुकानदार पीओएस मशीन या किसी अन्य इलेक्ट्रॉनिक मशीन से दे सकता है।

रेलवे अधिकारियों का कहना है कि इसके पहले तक दुकानदार सामान का बिल नहीं देते थे और सामान खराब निकलने पर ग्राहक इसकी शिकायत भी नहीं कर पाता था, लेकिन अब ग्राहक एक समोसा, चाय, पाव भाजी, बड़ा का भी बिल मांग सकता है। जो दुकानदार को देना पड़ेगा।

रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि ग्राहक के पास बिल होगा तो वह आसानी से खराब सामान की शिकायत संबंधित विभाग में कर मुआवजे की मांग कर सकता है। बिल लेने का दूसरा फायदा यह भी है कि दुकानदार को आपके पैसे का टैक्स देना होगा।

रेलवे प्रशासन का कहना है कि एक सितंबर से रेलवे स्टाल में अगर कोई दुकानदार सामान खरीदने पर आपको बिल नहीं देता तो ग्राहक सामान का पैसा न दें। इसकी शिकायत रेलवे अधिकारियों और IRCTC से करे। दुकानदार के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।